विवाह समारोह में एक साथ दिखे अखिलेश और शिवपाल, एक साथ बैठे फिर भी नहीं की बात

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 11, 2022   10:33
विवाह समारोह में एक साथ दिखे अखिलेश और शिवपाल, एक साथ बैठे फिर भी नहीं की बात
प्रतिरूप फोटो
ANI Image

प्रसपा के मुख्य प्रवक्ता दीपक मिश्रा ने मंगलवार को पीटीआई- को बताया कि शिवपाल यादव और अखिलेश यादव सोमवार रात लखनऊ में आयोजित पूर्व पुलिस महानिदेशक की भतीजी अमृता की शादी समारोह में शामिल हुए थे। दोनों के बीच सामान्य शिष्टाचार के तहत नमस्कार का आदान-प्रदान तो हुआ, मगर उसके बाद दोनों के बीच और कोई बात नहीं हुई।

लखनऊ। आपसी तल्खी के ताजा दौर के बीच समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव और उनके चाचा सपा विधायक शिवपाल सिंह यादव लखनऊ में आयोजित एक विवाह समारोह में एक साथ नजर आए। अखिलेश यादव ने मंगलवार को उनके साथ अपनी एक फोटो भी ट्वीट की। सपा के टिकट पर पिछला विधानसभा चुनाव जीतने के बावजूद पार्टी विधायकों की बैठक में नहीं बुलाए जाने से नाराज प्रगतिशील समाजवादी पार्टी(प्रसपा) के अध्यक्ष शिवपाल यादव और सपा प्रमुख अखिलेश यादव के बीच दूरियां एक बार फिर जगजाहिर हो गई हैं। हालांकि इसी बीच सपा अध्यक्ष ने मंगलवार सुबह एक ट्वीट में प्रदेश के पूर्व पुलिस महानिदेशक जगमोहन यादव की भतीजी के विवाह समारोह की तस्वीरें साझा की हैं। इनमें एक ऐसी तस्वीर भी शामिल है जिसमें वह अपने चाचा के बगल में बैठे हैं। 

इसे भी पढ़ें: भतीजे से अलग होंगे चाचा के रास्ते, शिवपाल करेंगे प्रसपा का पुनर्गठन, सरकार के समक्ष रखेंगे जनता की परेशानियां 

प्रसपा के मुख्य प्रवक्ता दीपक मिश्रा ने मंगलवार को पीटीआई- को बताया कि शिवपाल यादव और अखिलेश यादव सोमवार रात लखनऊ में आयोजित पूर्व पुलिस महानिदेशक की भतीजी अमृता की शादी समारोह में शामिल हुए थे। दोनों के बीच सामान्य शिष्टाचार के तहत नमस्कार का आदान-प्रदान तो हुआ, मगर उसके बाद दोनों के बीच और कोई बात नहीं हुई। उन्होंने बताया कि अखिलेश यादव जिस सोफे पर बैठे थे उसके ठीक बगल वाले सोफे पर शिवपाल यादव बैठे थे। सपा अध्यक्ष ने यह तस्वीर भी ट्वीट के साथ साझा की है। 

इसे भी पढ़ें: स्वाभिमान से समझौता किया लेकिन बदले में दर्द मिला: अखिलेश पर शिवपाल का निशाना 

गौरतलब है कि शिवपाल यादव ने प्रसपा का अध्यक्ष होने के बावजूद प्रदेश का पिछला विधानसभा चुनाव जसवंत नगर सीट से सपा के ही टिकट पर जीता था। लेकिन बाद में चाचा-भतीजे के बीच तल्ख़ियां इतनी बढ़ गई थीं कि शिवपाल यादव के भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने की अटकलेंलगाई जाने लगी थीं। इस बारे में पूछे जाने पर शिवपाल यादव ने अपनी रणनीति का खुलासा नहीं किया। उनका कहना है कि सही वक्त आने पर सारी बात बता दी जाएगी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।