शिवराज सिंह चौहान ने डॉक्टरों को दिए निर्देश, कहा- MP में कोरोना से हुई हर मौत का किया जाए विश्लेषण

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 30, 2020   13:51
शिवराज सिंह चौहान ने डॉक्टरों को दिए निर्देश, कहा- MP में कोरोना से हुई हर मौत का किया जाए विश्लेषण

एक आधिकारिक बयान में कहा गया कि मुख्यमंत्री ने डॉक्टरों और प्रशासनिक अधिकारियों को कोविड-19 की वजह से हुई प्रत्येक मौत का विश्लेषण करने का निर्देश दिया है।

भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने स्वास्थ्य विभाग और डॉक्टरों को निर्देश दिए हैं कि प्रदेश में कोविड-19 से अब तक हुई हर मौत का विश्लेषण किया जाए। उन्होंने शुक्रवार को प्रदेश में कोरोना वायरस की स्थिति की समीक्षा के लिए आयोजित बैठक के दौरान यह निर्देश दिए। एक आधिकारिक बयान में कहा गया कि मुख्यमंत्री ने डॉक्टरों और प्रशासनिक अधिकारियों को कोविड-19 की वजह से हुई प्रत्येक मौत का विश्लेषण करने का निर्देश दिया है। शुक्रवार रात तक प्रदेश में कोरोना वायरस से 334 लोगों की मौत हो चुकी है। 

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में केन्द्रीय टिड्डी नियंत्रण दल के समन्वय से चलाया सघन अभियान, बचाव के लिये सभी जिले हाई अलर्ट पर 

बैठक में प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव मोहम्मद सुलेमान ने बताया कि मध्यप्रदेश में कोविड-19 की मृत्यु दर 4.3 प्रतिशत है, जो राष्ट्रीय औसत से अधिक है। उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय स्तर पर मृत्यु दर 2.8 प्रतिशत है। मुख्यमंत्री ने बैठक में मेडिकल और प्रशासन के अधिकारियों से कहा कि प्रदेश में कोविड-19 के उपचार की सबसे बेहतर प्रणाली का उपयोग सुनश्चित कर मृत्यु दर को कम करना होगा। हर जीवन हमारे लिए अनमोल है। चौहान ने बैठक में प्रदेश में कोरोना से सबसे अधिक प्रभावित जिले इंदौर में कोविड-19 से हुई मौत की समीक्षा की। शनिवार सुबह तक इंदौर में 129 कोरोना मरीजों की मौत हो चुकी है। 

इसे भी पढ़ें: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश इलाज की सर्वोत्‍तम व्यवस्था सुनिश्चित कर मृत्यु दर कम करें 

सुलेमान ने बताया कि प्रदेश में कोरोना के सक्रीय मरीजों की संख्या में कमी आई है। स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन के अनुसार शुक्रवार को प्रदेश में कोरोना के 192 नए मरीज सामने आये जबकि शुक्रवार को 219 मरीजों को उपचार के बाद अस्पताल से छुट्टी दी गयी। प्रदेश में शुक्रवार शाम तक कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या 3,042 थी। बैठक में सुलेमान ने बताया कि प्रदेश में कोरोना मरीजों की ठीक होने की दर 56 प्रतिशत हो गई है जबकि देश में यह 42.8 फीसदी है। शुक्रवार रात तक मध्यप्रदेश में कुल 7,645 लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।