रीवा सर्किट हॉउस में बाबा ने किया नाबालिक के साथ दुष्कर्म, पुलिस जुटी जांच में

रीवा सर्किट हॉउस में बाबा ने किया नाबालिक के साथ दुष्कर्म, पुलिस जुटी जांच में

आरोपी बाबा का नाम सीताराम दास है। वह बड़ी गद्दी के महंत है। शहर में 1 अप्रैल से होने वाले हनुमान कथा वाचन के लिए बाबा रीवा आया था। वह सर्किट हाउस में रुका था। बाबा के सहयोगी 28 मार्च को सतना जिले की एक नाबालिग लड़की को बहला-फुसलाकर सर्किट हाउस लेकर पहुंचे थे।

भोपाल। मध्य प्रदेश में रीवा जिले के सर्किट हाउस में शर्मसार कर देने वाली खबर सामने आई है। रीवा के नामी समदड़िया बिल्डर्स के कार्यक्रम के उद्घाटन के लिए आए कथा वाचक पर नाबालिग के साथ दरिंदगी का आरोप लगा है। पुलिस ने आरोपी बाबा के चेले को गिरफ्तार कर लिया है। इस घटना के बाद बाबा फरार हो गया।

दरअसल आरोपी बाबा का नाम सीताराम दास है। वह बड़ी गद्दी के महंत है। शहर में 1 अप्रैल से होने वाले हनुमान कथा वाचन के लिए बाबा रीवा आया था। वह सर्किट हाउस में रुका था। बाबा के सहयोगी 28 मार्च को सतना जिले की एक नाबालिग लड़की को बहला-फुसलाकर सर्किट हाउस लेकर पहुंचे थे।

इसे भी पढ़ें:महंगाई को लेकर कांग्रेस का देशव्यापी आंदोलन, भोपाल से होगी शुरुआत 

वहीं बंद कमरे में बाबा और उसके सहयोगियों ने जमकर शराब पी और नाबालिक लड़की को भी पिलाई। जिसके बाद सहयोगियों ने कमरा बंद करके लड़की को बाबा के हवाले कर दिया। इसके बाद बाबा ने लड़की के साथ दुष्कर्म किया। बाबा के सहयोगी नाबालिग को छोड़ने ले जा रहे थे। रास्ते में लडकी को अपना कोई परिचित दिखा तो वह कार से कूद गई। और परिजनों के साथ पुलिस के पास पहुंची और अपनी आपबीती बताई।

नाबालिग की शिकायत पर बाबा सहित कई आरोपियों पर पास्को एक्ट और अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। फिलहाल पुलिस ने बाबा के एक सहयोगी को गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि खुद बाबा और उसके अन्य सहयोगी फरार हैं और उनकी तलाश की जा रही है।

इसे भी पढ़ें:PM Modi at BIMSTEC Summit | पांचवें बिम्सटेक शिखर सम्मेलन में शामिल हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, संबोधन में कही ये बातें 

जानकारी मिली है कि आरोपी सीताराम दास बाबा पिछले कुछ महीने से रीवा में लगातार सक्रिय रहा है। हाल के दिनों में जिले के आला अधिकारी और राजनेताओं सहित कई बिल्डरों से उसके मेल-मिलाप की खबरें सुर्खियों में रही हैं।

वहीं 30 मार्च को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का रीवा दौरा है। वे यहां कई कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे। इसके एक दिन पहले इस घटना के सामने आने से शहर में तरह-तरह की चर्चाएं शुरू हो गई हैं।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...