सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी वासियों के लिए मुंबई में खुलेगा दफ्तर, जानें क्या होगा इससे लाभ

सीएम योगी का बड़ा फैसला, यूपी वासियों के लिए मुंबई में खुलेगा दफ्तर, जानें क्या होगा इससे लाभ

मुंबई में इस दफ्तर के खुल जाने के बाद से वहां रह रहे यूपी के नागरिकों को इसका फायदा होगा। योगी आदित्यनाथ की इस पहल की जमकर सराहना हो रही है। माना जा रहा है कि इससे मुंबई में काम करने वाले यूपी के लोगों के हितों की रक्षा हो सकेगी।

2022 में प्रचंड जीत के बाद योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश के एक बार फिर से मुख्यमंत्री बने हैं। दोबारा मुख्यमंत्री बनने के बाद योगी आदित्यनाथ कई बड़े और ऐतिहासिक फैसले ले रहे हैं। इसी कड़ी में योगी आदित्यनाथ ने आज एक और बड़ा फैसला लिया है। दरअसल, योगी सरकार राज्य से बाहर रहने वाले अपने नागरिकों को पर लगातार ध्यान रख रही है। इसी कड़ी में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मुंबई में यूपी सरकार का दफ्तर खोलने का फैसला लिया है। मुंबई में इस दफ्तर के खुल जाने के बाद से वहां रह रहे यूपी के नागरिकों को इसका फायदा होगा। योगी आदित्यनाथ की इस पहल की जमकर सराहना हो रही है। माना जा रहा है कि इससे मुंबई में काम करने वाले यूपी के लोगों के हितों की रक्षा हो सकेगी।

इसे भी पढ़ें: ODOP उत्पादों की बिक्री को दोगुना करेगी योगी सरकार, कामगारों को प्रशिक्षित कर दिया जाएगा टूलकिट

जानकारी के मुताबिक मुंबई में यूपी सरकार का दफ्तर अप्रवासी कामगारों के लिए यूपी में नए रोजगार के अवसर को पैदा करने में सहायक होगा। इसके अलावा आपदा की स्थिति में यूपी के लोगों को इस दफ्तर के जरिए सहायता पहुंचाई जा सकती है। यूपी के मुंबईकरो की सहायता का यह एक बड़ा केंद्र साबित हो सकता है। आपके लिए यह जानना बेहद जरूरी है कि देश की आर्थिक राजधानी कही जाने वाली मुंबई में बड़ी संख्या में उत्तर प्रदेश और बिहार के लोग रहते हैं। यही कारण है कि उत्तर प्रदेश के लोगों को ध्यान में रखते हुए योगी सरकार ने यह निर्णय लिया है। इस दफ्तर से उनकी समस्याओं का समाधान होगा। यूपी सरकार का यह दफ्तर राज्य के नागरिकों के लिए मुंबई में नौकरी, व्यवसाय और कामगारों की सहूलियत तथा उनके हितों की रक्षा करने में बेहद कारगर साबित हो सकता है।

इसे भी पढ़ें: क्रांति दिवस पर स्वतंत्रता संग्राम सेनानी और शहीदों के परिजनों को सम्मानित करेंगे सीएम योगी

जानकारी के मुताबिक के मुंबई में लाखों लोग उत्तर प्रदेश के रहते हैं। उत्तर प्रदेश से मुंबई जाने वाली ट्रेनों में भी भयंकर भीड़ रहती है। कुछ लोग तो ऐसे हैं जो कि यहां सालों से रह रहे हैं। यह लोग मुंबई के विकास में अहम योगदान निभाते हैं। इस दफ्तर के जरिए योगी सरकार ऐसे लोगों को भी साधने की कोशिश करेगी जो कि उत्तर प्रदेश में निवेश कर सकें। साथ ही साथ इस दफ्तर का उद्देश्य बिज़नेस एनवायरनमेंट को तैयार करने के लिए नए आइडियाज पर काम करना भी है। कुल मिलाकर देखें तो कहीं ना कहीं योगी सरकार के इस कदम से उत्तर प्रदेश के लोगों को राज्य के बाहर भी आपदा में बड़ी सहायता मिल सकती है। साथ ही साथ रोजगार को लेकर भी यह दफ्तर काफी अहम साबित हो सकता है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।