निकाय चुनावों के परिणाम से खट्टर संतुष्ठ, बोले- विपरीत परिस्थितियों के बावजूद भाजपा ने किया अच्छा प्रदर्शन

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 31, 2020   22:01
निकाय चुनावों के परिणाम से खट्टर संतुष्ठ, बोले- विपरीत परिस्थितियों के बावजूद भाजपा ने किया अच्छा प्रदर्शन

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि भाजपा ने 36 वार्डों में जीत दर्ज की, जबकि कांग्रेस ने 19 वार्डों पर ही जीत दर्ज की। मुख्यमंत्री ने संवाददाता सम्मेलन में कोविड महामारी के बीच विभिन्न तबकों के लिए अपनी सरकार द्वारा लागू की गई विभिन्न योजनाओं का भी जिक्र किया।

चंडीगढ़। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने निकाय चुनावों में भाजपा के प्रदर्शन को लेकर कहा कि ‘‘विपरीत परिस्थितियों के बावजूद’’ परिणाम संतोषजनक रहा। यह पूछे जाने पर कि क्या भाजपा इन चुनावों में उम्मीदों पर खरी नहीं उतर पाई, खट्टर ने कहा कि पार्टी ने ‘‘विपरीत परिस्थितियों के बावजूद’’ संतोषजनक प्रदर्शन किया है। हालांकि उन्होंने यह स्पष्ट नहीं किया कि क्या ‘‘विपरीत परिस्थिति’’ थी, लेकिन उनका संकेत इस ओर था कि चुनाव केंद्र के नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के प्रदर्शनों के बीच हुए। पंचकूला, अंबाला और सोनीपत में महापौर के चुनाव में भाजपा पंचकूला में ही जीतने में कामयाब हो पाई। चुनाव नगर निगमों, रेवाड़ी नगरपालिका और सांपला, धारूहेड़ा तथा उकलाना निकाय समितियों के अध्यक्ष और सदस्यों के लिए भी हुआ। 

इसे भी पढ़ें: युवाओं के लिए प्रेरणा का एक प्रमुख स्रोत है भगवद गीता: मनोहर लाल खट्टर 

खट्टर ने कहा कि भाजपा ने 36 वार्डों में जीत दर्ज की, जबकि कांग्रेस ने 19 वार्डों पर ही जीत दर्ज की। मुख्यमंत्री ने संवाददाता सम्मेलन में कोविड महामारी के बीच विभिन्न तबकों के लिए अपनी सरकार द्वारा लागू की गई विभिन्न योजनाओं का भी जिक्र किया। राज्य सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने के लिए विधानसभा का सत्र बुलाए जाने की कांग्रेस की मांग पर खट्टर ने कहा, ‘‘यदि हमने 36 वार्ड जीते हैं और कांग्रेस ने 19, तो क्या यह जनादेश नहीं है।’’ 

इसे भी पढ़ें: हरियाणा में महापौर चुनाव में भाजपा-जजपा गठबंधन को झटका, महज पंचकुला में मिली कामयाबी 

उन्होंने कहा, ‘‘अभी विधानसभा का सत्र बुलाने की कोई आवश्यकता नहीं है, यह फरवरी या मार्च में अपने समय पर आयोजित होगा।’’ यह पूछे जाने पर कि क्या भाजपा नए साल में पंचायत चुनाव पार्टी के चुनाव चिह्न पर लड़ेगी, उन्होंने कहा, ‘‘आम तौर पर हमने पंचायत चुनाव कभी पार्टी के चिह्न पर नहीं लड़ा है, फिर भी हम जब ये चुनाव आएंगे, तब फैसला करेंगे।’’ किसानों के प्रदर्शन के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि केंद्र पहले से ही किसानों से बात कर रहा है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।