दुल्हन को आशीर्वाद देने पहुंचे थे भाजपा सांसद, बहू ने मांग ली ऐसी चीज कि पूरा गांव हो गया खुश

दुल्हन को आशीर्वाद देने पहुंचे थे भाजपा सांसद, बहू ने मांग ली ऐसी चीज कि पूरा गांव हो गया खुश
ANI

बहू ने सांसद से मुंह दिखाई में कुछ ऐसा मांग लिया कि पूरे गांव में इसकी तारीफ हो रही है। बहू की मांग को लेकर भी खूब चर्चा हो रही है। गांव वाले वाह-वाह कर रहे हैं। आपको भी जानकर खुशी होगी कि आखिर बहू ने सांसद से मुंह दिखाई में ऐसा क्या मांग लिया कि हर तरफ उसकी तारीफ हो रही है।

शादी-ब्याह के मौसम में नेता अपने-अपने क्षेत्र में विभिन्न शादियों में शरीक होते हैं। इसी कड़ी में अलीगढ़ के सांसद सतीश गौतम भी एक नवविवाहित जोड़ी को आशीर्वाद देने के लिए अपने संसदीय क्षेत्र में पहुंचे थे। मौका था मुंह दिखाई का। बहू ने सांसद से मुंह दिखाई में कुछ ऐसा मांग लिया कि पूरे गांव में इसकी तारीफ हो रही है। बहू की मांग को लेकर भी खूब चर्चा हो रही है। गांव वाले वाह-वाह कर रहे हैं। आपको भी जानकर खुशी होगी कि आखिर बहू ने सांसद से मुंह दिखाई में ऐसा क्या मांग लिया कि हर तरफ उसकी तारीफ हो रही है।

इसे भी पढ़ें: पचमढ़ी-शिमला के अधिवेशन से खींची गई UPA 1 की रूप-रेखा, जयपुर में राहुल का सत्ता जहर है वाला बयान, ऐसा रहा है 'चिंतन शिविर' का इतिहास

दरअसल उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ से सांसद हैं। सतीश गौतम अपने संसदीय क्षेत्र में एक एक करीबी किसान परिवार के घर हुए बेटे की शादी में वह शरीक नहीं हो पाए थे। इसलिए आशीर्वाद देने के लिए वह बाद में पहुंचे। हालांकि जब उन्होंने दुल्हन को हाथ में लिफाफा देने की कोशिश की तो एमए पास बहू ने गांव में सड़क निर्माण की मांग कर दी। यह सुनकर आसपास के लोग तो आश्चर्यचकित हो गए लेकिन सांसद महोदय मुस्कुराते नजर आए। उन्होंने बहू को आश्वासन भी दे दिया एक महीने के भीतर गांव में सड़क का निर्माण पूरा हो जाएगा। इसके बाद खुद सांसद महोदय गांव में सड़क निर्माण के लिए स्थिति का जायजा लेने भी पहुंच गए।

इसे भी पढ़ें: 800 हिंदू परिवारों को वापस लौटना पड़ा पाकिस्तान, सुब्रमण्यम स्वामी ने केंद्र पर साधा निशाना, कही यह अहम बात

मीडिया से बात करते हुए सतीश गौतम ने बताया कि एक किसान की बेटी की शादी थी पर मैं नहीं जा सका था, जिसके बाद मैं बेटी की मुंह दिखाई में गया था। बेटी को मैंने लिफाफा दिया तो उसने कहा कि मुझे लिफाफे की जगह एक सड़क बनवा कर दे दीजिए। तो मैंने उसे 100 मी. की सड़क 1 महीने में बनवा कर देने का वादा किया है। वहीं, दुल्हन ने कहा कि मंदिर का रास्ता काफी खराब है जिसे लेकर मैंने उनसे (सांसद) कहा था कि ये सड़क बनवा दीजिए। तो उन्होंने सड़क बनवाने का वादा किया है। दरअसल, यह शादी 2 अप्रैल को हुई थी। व्यस्त रहने की वजह से सांसद महोदय इस शादी में नहीं पहुंच पाए थे।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...