हरियाणा विधानसभा के उपाध्यक्ष चुने गए भाजपा के रणबीर गंगवा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 26, 2019   14:55
हरियाणा विधानसभा के उपाध्यक्ष चुने गए भाजपा के रणबीर गंगवा

हुड्डा की ओर इशारा करते हुए हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि जब अध्यक्ष नाम मांग रहे थे तो विपक्ष ने अपनी तरफ से किसी नाम का प्रस्ताव क्यों नहीं दिया।

चंडीगढ़। भाजपा विधायक रणबीर गंगवा को मंगलवार को सर्वसम्मति से हरियाणा विधानसभा का उपाध्यक्ष चुना गया। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने नलवा विधायक का नाम प्रस्तावित किया और उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने इसे अपना समर्थन दिया।

विधानसभा अध्यक्ष ज्ञानचंद गुप्ता ने सदन से कहा कि चूंकि केवल एक नाम प्रस्तावित किया गया है, इसलिए गंगवा को सर्वसम्मति से निर्वाचित घोषित किया जाता है। खट्टर, दुष्यंत और नेता प्रतिपक्ष एवं कांग्रेस नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने गंगवा को उपाध्यक्ष चुने जाने की बधाई दी। हुड्डा ने कहा कि उन्होंने सोचा था कि उपाध्यक्ष का पद विपक्ष के पास आएगा, “लेकिन गंगवा के नाम का विरोध नहीं किया गया क्योंकि वह अच्छे व्यक्ति हैं।”

इसे भी पढ़ें: रिजर्व बैंक ने मुद्रा योजना के तहत बढ़ते फंसे कर्ज पर चिंता जताई

हुड्डा की ओर इशारा करते हुए हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि जब अध्यक्ष नाम मांग रहे थे तो विपक्ष ने अपनी तरफ से किसी नाम का प्रस्ताव क्यों नहीं दिया। हुड्डा ने विज से कहा, “आपको हर बार बोलने की जरूरत नहीं है और मुख्यमंत्री को भी बोलने दें।” बाद में, खट्टर ने नलवा विधायक के सर्वसम्मति से उपाध्यक्ष चुने जाने पर विपक्ष का धन्यवाद व्यक्त किया। गंगवा ने कहा कि उन्हें इस बात का गर्व है कि सदन ने उन्हें यह जिम्मेदारी सौंपी और उन्होंने सदस्यों को निष्पक्ष आचरण का आश्वासन दिया। इनेलो के पूर्व नेता एवं राज्यसभा के पूर्व सदस्य रहे गंगवा लोकसभा चुनाव से पहले मार्च में भाजपा में शामिल हो गए थे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।