Karnataka: CM के नाम के ऐलान में देरी पर बोम्मई का तंज, पद के लिए संघर्ष कांग्रेस की स्थिति को दर्शाता है

Basavaraj Bommai
ANI
अंकित सिंह । May 17 2023 2:14PM

कार्यवाहक मुख्यमंत्री की भूमिका निभा रहे भाजपा नेता ने कहा कि कांग्रेस को बहुमत मिलने के बावजूद अब तक अपना सीएम उम्मीदवार तय नहीं किया गया है। इससे पार्टी के अंदरुनी हालात का पता चलता है।

कर्नाटक में कांग्रेस ने जबरदस्त तरीके से विधानसभा चुनाव में जीत हासिल की थी। हालांकि, इस जीत के बाद कांग्रेस में कई दिनों से मुख्यमंत्री ने नाम को लेकर मंथन जारी है। आज सूत्रों ने दावा किया है कि सिद्धारमैया राज्य के नए मुक्यमंत्री होंगे। लेकिन कांग्रेस की ओर से इसको लेकर कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है। यही कारण है कि भाजपा ने अब कांग्रेस पर तंज कसना शुरू कर दिया है। कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने बुधवार को राज्य के नए मुख्यमंत्री के चयन में देरी को लेकर कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए कहा कि लोगों की आकांक्षाएं 'राजनीति' से अधिक महत्वपूर्ण हैं। माना जा रहा है कि आज साम तक नए मुख्यमंत्री के नाम का ऐलान हो सकता है।  

इसे भी पढ़ें: पायलट-गहलोत के 'घमासान' पर खड़गे की पैनी नजर, कर्नाटक का मसला हल करने के बाद आएगी राजस्थान की बारी

कार्यवाहक मुख्यमंत्री की भूमिका निभा रहे भाजपा नेता ने कहा कि कांग्रेस को बहुमत मिलने के बावजूद अब तक अपना सीएम उम्मीदवार तय नहीं किया गया है। इससे पार्टी के अंदरुनी हालात का पता चलता है। उन्होंने साफ तौर पर कहा कि लोगों की आकांक्षाएं राजनीति से ज्यादा महत्वपूर्ण हैं। कांग्रेस को जल्द से जल्द मुख्यमंत्री चुनना चाहिए। बोम्मई की टिप्पणी नए मुख्यमंत्री को चुनने के लिए कांग्रेस के भीतर व्यस्त बातचीत के बीच आई है। कांग्रेस ने कर्नाटक मे जीत दर्ज करके भाजपा को एकमात्र दक्षिणी राज्य से बाहर कर दिया, जहां वह शासन कर रही थी। सीएम पद के मुख्य दावेदार सिद्धारमैया और डीके शिवकुमार, सोनिया गांधी और राहुल गांधी सहित कांग्रेस के शीर्ष नेताओं के साथ बैठकें कर रहे हैं, क्योंकि पार्टी दोनों दिग्गजों को परेशान न करने के लिए सत्ता-साझाकरण फॉर्मूला स्थापित करने के लिए सावधानी बरत रही है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने कर्नाटक का मुख्यमंत्री चुनने को लेकर कांग्रेस में चल रहे बैठकों के दौर को ‘सर्कस’ करार दिया है। 

इसे भी पढ़ें: Karnataka: सिद्धारमैया होंगे कर्नाटक के अगले मुख्यमंत्री, सूत्रों का दावा- गुरुवार दोपहर ले सकते हैं शपथ

इस पर कांग्रेस ने अतीत में भाजपा के मुख्यमंत्रियों के चयन में कई दिनों का समय लगने का हवाला देते हुए पलटवार किया। कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने बुधवार को ट्वीट कर कहा, ‘‘प्रधानमंत्री की वाह-वाह कर रहे लोगों की याददाश्त को ताजा करना चाहता हूं। 2017 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव का परिणाम 11 मार्च को आया और इसके 8 दिन बाद 19 मार्च को योगी आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री पद के लिए चुना गया।’’ उनके मुताबिक, 2021 में असम विधानसभा चुनाव के नतीजे 3 मार्च को आए और इसके 7 दिनों के बाद हिमंत विश्व सरमा को मुख्यमंत्री चुना गया। रमेश ने कहा कि ऐसी कई और भी मिसाल हैं। 

We're now on WhatsApp. Click to join.
All the updates here:

अन्य न्यूज़