'प्ले कार्ड लाना सदन के नियमों के खिलाफ', पीयूष गोयल बोले- सरकार निलंबन को रद्द करने का प्रस्ताव लाने के लिए तैयार

Piyush Goyal
ANI Image
केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि सरकार पहले दिन से महंगाई पर चर्चा के लिए तैयार है। वित्त मंत्री को कोविड हुआ था उनके ठीक होने के बाद से हम विपक्ष को चर्चा के लिए अपील कर रहे हैं। आज से तीन दिन पहले तय हुआ था कि सोमवार को लोकसभा और मंगलवार को राज्यसभा में चर्चा कर लीजिए।

नयी दिल्ली। संसद के मानसून सत्र में महंगाई समेत विभिन्न मुद्दों को लेकर हंगामे के चलते गतिरोध कायम रहा। हंगामे की वजह से उच्च सदन में शून्यकाल नहीं हो पाया। ऐसे में सत्तारूढ़ दल भारतीय जनता पार्टी ने विपक्ष पर जमकर हमला बोला। केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि राज्यसभा में महंगाई पर चर्चा होगी।

इसे भी पढ़ें: राउत की गिरफ्तारी से नाराज सांसद प्रियंका चतुर्वेदी संसद के बाहर बैनर के साथ आईं नजर, कहा- हम दबेंगे नहीं और ना झुकेंगे 

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि सरकार पहले दिन से महंगाई पर चर्चा के लिए तैयार है। वित्त मंत्री को कोविड हुआ था उनके ठीक होने के बाद से हम विपक्ष को चर्चा के लिए अपील कर रहे हैं। आज से तीन दिन पहले तय हुआ था कि सोमवार को लोकसभा और मंगलवार को राज्यसभा में चर्चा कर लीजिए।

उन्होंने कहा कि मैंने सदन में आश्वस्त कराया है कि कल दोपहर राज्यसभा में महंगाई पर चर्चा होगी इसके बाद भी विपक्ष एक मत पर नहीं आ रहा है। उनके मन में शंका है कि सरकार के काम सामने आएंगे और कैसे विपक्ष ने महंगाई को लेकर कोई ठोस कदम नहीं उठाए।

पीयूष गोयल ने कहा कि प्ले कार्ड लाना सदन के नियमों के ख़िलाफ़ है इसलिए या तो निलंबित सांसद खेद व्यक्त करें या उनके नेता उनकी ओर से खेद व्यक्त करें और आश्वासन दें कि ऐसा फिर नहीं होगा जिसके बाद सरकार सांसदों के निलंबन को रद्द करने का प्रस्ताव लाने के लिए तैयार है।

इसे भी पढ़ें: 'विपक्ष की आवाज को नहीं दबाना चाहिए', शशि थरूर बोले- हमारे सांसदों का निलंबन हो वापस 

केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री प्रल्हाद जोशी ने कहा कि बार-बार अनुरोध करने के बावजूद भी आज सदन स्थगित हो गया। हम चर्चा के लिए तैयार हैं। मैं उनसे अपील करता हूं कि अगर वे वास्तव में महंगाई पर चर्चा में रुचि रखते हैं तो उन्हें सदन को सामान्य रूप से चलने देना चाहिए। सरकार भी चर्चा के लिए तैयार है।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़