दुनिया का सबसे महत्वपूर्ण मानवाधिकार कानून है सीएए: रूपा गांगुली

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 23, 2020   10:56
दुनिया का सबसे महत्वपूर्ण मानवाधिकार कानून है सीएए: रूपा गांगुली

भाजपा सांसद रूपा गांगुली ने विपक्ष पर लोगों को गुमराह करने की कोशिश करने का आरोप लगाते हुए कहा कि संशोधित नागरिकता कानून को दुनिया का सबसे महत्वपूर्ण मानवाधिकार कानून माना जाना चाहिए। गांगुली दो दिवसीय दौरे पर ओडिशा आई थीं।

मलकानगिर। भाजपा सांसद रूपा गांगुली ने विपक्ष पर लोगों को गुमराह करने की कोशिश करने का आरोप लगाते हुए कहा कि संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) को दुनिया का सबसे महत्वपूर्ण मानवाधिकार कानून माना जाना चाहिए। गांगुली दो दिवसीय दौरे पर ओडिशा आई थीं। उन्होंने कहा कि सीएए किसी की नागरिकता नहीं छीनेगा। उन्होंने कहा, ‘‘सीएए का किसी भी तरह भारतीय नागरिकों पर प्रतिकूल प्रभाव नहीं पड़ेगा। विपक्षी दल झूठ फैला रहे हैं और तुच्छ राजनीतिक मकसदों के लिए लोगों को गुमराह कर रहे हैं।’’

इसे भी पढ़ें: CAA पर बोले नसीरुद्दीन शाह, मैं चिंतित नहीं बल्कि नाराज हूं

रूपा गांगुली ने पूर्ववर्ती पूर्वी पाकिस्तान से आकर मलकानगिरि और नबरंगपुर जिलों में बसे शरणार्थियों से मुलाकात की और सीएए के समर्थन में भाजपा द्वारा आयोजित एक बैठक को संबोधित किया। पश्चिम बंगाल से राज्यसभा सदस्य ने कहा, ‘‘इस मामले को लेकर तमाम हंगामे के बीच, सच्चाई यही रहेगी कि सीएए मानवता का प्रतीक है। इसे दुनिया का सबसे महत्वपूर्ण मानवाधिकार कानून बताया जा सकता है। इसका लक्ष्य प्रताड़ना एवं उत्पीड़न झेलने के बाद यहां आए लोगों को नागरिकता प्रदान करना है।’’

इसे भी देखें: केंद्र का पक्ष सुनकर ही CAA पर कोई फैसला करेगा Supreme Court, समझिये पूरा मामला





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।