लोकसभा चुनाव में लोगों के समक्ष मोदी या अराजकता में चुनने का विकल्प: जेटली

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Mar 12 2019 9:42AM
लोकसभा चुनाव में लोगों के समक्ष मोदी या अराजकता में चुनने का विकल्प: जेटली
Image Source: Google

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि जिसे महागठबंधन के रूप में पेश किया गया वह कई प्रतिद्वंद्वी गठबंधनों के गठबंधन के तौर पर सामने आ रहा है। यह ‘प्रतिद्वंद्वियों का आत्मघाती गठबंधन’ है।

नयी दिल्ली। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने सोमवार को कहा कि ‘महागठबंधन’ प्रतिद्वन्द्वी दलों का आत्मघाती गठजोड़ है और लोकसभा चुनाव में लोगों को ‘मोदी या अराजकता’ में से चयन करना है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली राजग आसन्न लोकसभा चुनाव में दूसरी बार जनादेश प्राप्त करने के लिये उतर रही है। इस चुनाव में 90 करोड़ लोगों के मतदान करने की उम्मीद है। लोकसभा चुनाव 11 अप्रैल से शुरू हो रहा है और 23 मई को मतगणना होगी। जेटली ने अपने ब्लाग में कहा, ‘जिसे महागठबंधन के रूप में पेश किया गया वह कई प्रतिद्वंद्वी गठबंधनों के ‘गठबंधन’ के तौर पर सामने आ रहा है। यह ‘प्रतिद्वंद्वियों का आत्मघाती गठबंधन’ है।’

भाजपा को जिताए

इसे भी पढ़ें: PM मोदी पर निशाना साधकर राहुल गांधी ध्यान बांटने का प्रयास कर रहे हैं: भाजपा

उन्होंने अपने ब्लाग में लिखा कि विपक्षी खेमे में नेतृत्व का मुद्दा पहेली बना हुआ है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी एक पूर्ण नेता नहीं हैं। उन्होंने लिखा, ‘वह आजमाये हुए और असफल हैं। मुद्दों पर उनकी समझ की कमी भयावह हैं। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी एक पूर्ण नेता नहीं हैं।’ भाजपा के वरिष्ठ नेता ने कहा कि विपक्षी गठबंधन अस्पष्ट और कमजोर है।



रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video