मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने केंद्रीय भैंस अनुसंधान संस्थान का किया दौरा, शोध कार्यों की ली जानकारी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 26, 2022   18:40
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने केंद्रीय भैंस अनुसंधान संस्थान का किया दौरा, शोध कार्यों की ली जानकारी

मुख्यमंत्री ने सीमन लैब का अवलोकन करते हुए वैज्ञानिकों से आह्वान किया कि वे पशुपालकों को उत्तम नस्ल की ज्यादा दूध देने वाली भैंसों के टीके उपलब्ध करवाएं, ताकि प्रदेश में दुग्ध का उत्पादन बढ़ाया जा सके। उन्होंने वैज्ञानिकों से कहा कि वे मुर्रा नस्ल को बढ़ावा देना सुनिश्चित करें, इससे श्वेत क्रांति को बढ़ावा मिलने के साथ-साथ पशुपालकों की आर्थिक स्थिति भी सुदृढ़ होगी।

चंडीगढ़ ।  मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने शनिवार को हिसार स्थित केंद्रीय भैंस अनुसंधान संस्थान में क्लोनिंग पर चल रहे शोध कार्यों की जानकारी ली और वैज्ञानिकों को शोध कार्यों को निरंतर बढ़ावा देने के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। इस अवसर पर उन्होने संस्थान में थर्मल इमेजिंग पुस्तक का विमोचन भी किया।

 

मुख्यमंत्री ने सीमन लैब का अवलोकन करते हुए वैज्ञानिकों से आह्वान किया कि वे पशुपालकों को उत्तम नस्ल की ज्यादा दूध देने वाली भैंसों के टीके उपलब्ध करवाएं, ताकि प्रदेश में दुग्ध का उत्पादन बढ़ाया जा सके। उन्होंने वैज्ञानिकों से कहा कि वे मुर्रा नस्ल को बढ़ावा देना सुनिश्चित करें, इससे श्वेत क्रांति को बढ़ावा मिलने के साथ-साथ पशुपालकों की आर्थिक स्थिति भी सुदृढ़ होगी।

इसे भी पढ़ें: अंतरराष्ट्रीय स्तर पर हरियाणा की नागरिक उड्डयन नीतियों की हुई चर्चा - डिप्टी सीएम

संस्थान के निदेशक डॉ टी के दत्ता ने शोध कार्यों के बारे में मुख्यमंत्री को विस्तार से जानकारी दी। थर्मल इमेजिंग पुस्तक के प्रकाशक ने बताया कि संस्थान द्वारा तैयार की गई थर्मल इमेजिंग पुस्तक के माध्यम से तापमान में अंतर की जांच एवं पशुओं में होने वाले विभिन्न रोगों की प्रारंभिक स्तर पर जानकारी उपलब्ध हो सकेगी।

इसे भी पढ़ें: मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ के शपथ ग्रहण समारोह में लिया हिस्सा

इस अवसर पर शहरी स्थानीय निकाय मंत्री डॉ कमल गुप्ता, सांसद श्री बृजेन्द्र सिंह , विधानसभा के उपाध्यक्ष श्री रणबीर गंगवा, हांसी से विधायक श्री विनोद भयाना सहित अनेक चिकित्सक एवं वैज्ञानिक भी उपस्थित रहे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।