मुख्यमंत्री योगी की गौतमबुद्ध नगर को सौगात, 700 करोड़ की 80 परियोजनाओं का किया लोकार्पण

मुख्यमंत्री योगी की गौतमबुद्ध नगर को सौगात, 700 करोड़ की 80 परियोजनाओं का किया लोकार्पण

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 2018 में हमने एक जनपद और एक उत्पाद की योजना शुरू की थी जो आज देश में आत्मनिर्भर भारत की आधारशिला बन रही है। बता दें कि योगी आदित्यनाथ नोएडा आकर लोकार्पण और शिलान्यास करने वाले थे लेकिन मौसम सही नहीं होने की वजह से उन्हें वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग का सहारा लेना पड़ा।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से नोएडा में करीब 700 करोड़ रुपए की 80 परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। उन्होंने कहा कि आज हमने एक साथ 700 करोड़ से अधिक की परियोजनाओं का लोकार्पण किया है। मुझे खुशी है कि हमारे गौतमबुद्धनगर के जनप्रतिनिधियों के सामूहिक प्रयासों से ये जनपद देश के अंदर तेज़ी से विकास के पथ पर अग्रसर हुआ है। 

इसे भी पढ़ें: सीएम योगी आदित्यनाथ ने दिए संकेत, उत्तरप्रदेश में शराब पर प्रतिबंध लगाने के पक्ष में नहीं है सरकार 

इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 2018 में हमने एक जनपद और एक उत्पाद की योजना शुरू की थी जो आज देश में आत्मनिर्भर भारत की आधारशिला बन रही है। बता दें कि योगी आदित्यनाथ नोएडा आकर लोकार्पण और शिलान्यास करने वाले थे लेकिन मौसम सही नहीं होने की वजह से उन्हें वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग का सहारा लेना पड़ा।

उन्होंने कहा कि मैंने खुद ही इस बात को महसूस किया है कि अकेले नोएडा अथॉरिटी ने वहां पर हजारों-करोड़ रुपए की परियोजनाओं का लोकार्पण कराया है। ऐसे ही ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी ने, यमुना एक्सप्रेस अथॉरिटी ने भी लोककल्याण इत्यादि से जुड़े हुए लोकार्पण के कार्य सम्पन्न किए हैं।

इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि जेवर में स्थापित होने वाले जेवर इंटरनेशनल ग्रीनफील्ड एयरपोर्ट के निर्माण का काम तेज़ी से आगे बढ़ रहा है। ये एशिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट होगा, इसमें बेहतरीन कनेक्टिविटी के लिए राज्य सरकार भारत सरकार के साथ मिलकर युद्ध स्तर पर काम कर रही है। 

इसे भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा- बंटवारे में नहीं एकजुटता में विश्वास करता हूं 

उल्लेखनीय है कि जिला सूचना अधिकारी राकेश चौहान ने बताया था कि मुख्यमंत्री की सुरक्षा के लिये पुख्ता प्रबंध किया गया है। यहां पर नोएडा, ग्रेटर नोएडा, यमुना विकास प्राधिकरण तथा नोएडा पुलिस, नोएडा मेट्रो रेल सहित विभिन्न संस्थानों ने अपनी-अपनी प्रदर्शनी लगाई है। उन्होंने बताया था कि समारोह का मुख्य आकर्षण एक जनपद एक उत्पाद, स्वयं सहायता समूह के उत्पाद, औद्योगिक प्रदर्शनी, उत्तर प्रदेश के इतिहास की प्रदर्शनी, नोएडा के इतिहास की प्रदर्शनी, नोएडा एयरपोर्ट के मॉडल का प्रदर्शन, उत्तर प्रदेश के प्रसिद्ध लोक व्यंजन, कृषि व जैविक उत्पादों की प्रदर्शनी के अलावा सांस्कृतिक आयोजन होंगे।

यहां सुने मुख्यमंत्री का पूरा संबोधन: 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।