सीएम योगी आदित्यनाथ ने दिए संकेत, उत्तरप्रदेश में शराब पर प्रतिबंध लगाने के पक्ष में नहीं है सरकार

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 25, 2021   14:43
सीएम योगी आदित्यनाथ ने दिए संकेत, उत्तरप्रदेश में शराब पर प्रतिबंध लगाने के पक्ष में नहीं है सरकार

नई आबकारी नीति बनाने के दूसरे दिन उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को संकेत दिया कि वह राज्य में शराब पर प्रतिबंध लगाने के पक्ष में नहीं हैं। बहरहाल, उन्होंने यह स्पष्ट कर दिया कि उनकी सरकार उत्तर प्रदेश के हित में सभी कदम उठाएगी।

लखनऊ। नई आबकारी नीति बनाने के दूसरे दिन उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को संकेत दिया कि वह राज्य में शराब पर प्रतिबंध लगाने के पक्ष में नहीं हैं। बहरहाल, उन्होंने यह स्पष्ट कर दिया कि उनकी सरकार उत्तर प्रदेश के हित में सभी कदम उठाएगी। नई आबकारी नीति के अनुसार उत्‍तर प्रदेश में प्रति व्‍यक्ति या एक घर में महज छह लीटर शराब ही रखी जा सकेगी।

इसे भी पढ़ें: अमेरिकी सेना में समलैंगिकों पर लगे प्रतिबंधों को हटा सकते हैं राष्ट्रपति जो बाइडन

अगर इससे अधिक मात्रा में शराब रखनी है तो आबकारी विभाग से लाइसेंस लेना होगा। मुख्‍यमंत्री ने पत्रकारों से कहा कि इस कदम से शराब की तस्‍करी पर रोक लगेगी और यह राज्‍य के हित में हैं। यह पूछे जाने पर कि क्‍या राज्‍य सरकार की उत्‍तर प्रदेश को शराब मुक्‍त बनाने की योजना है, उन्‍होंने कहा कि हम जबरन कुछ नहीं कर सकते लेकिन राज्‍य के हित के लिए जो भी होगा हम वह कदम उठाएंगे। उल्‍लेखनीय है कि पड़ोसी राज्‍य बिहार और गुजरात में भी शराब की बिक्री पर प्रतिबंध है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...