झारखंड चुनाव: कांग्रेस ने जारी किया घोषणा पत्र, कर्जमाफी समेत कई लुभावने वादे किए

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 25, 2019   09:35
झारखंड चुनाव: कांग्रेस ने जारी किया घोषणा पत्र, कर्जमाफी समेत कई लुभावने वादे किए

झारखंड में कांग्रेस के प्रभारी आरपीएन सिंह ने घोषणा पत्र जारी करते हुए वादा किया कि उनकी पार्टी की सरकार किसानों को साहूकारों के चंगुल से मुक्त कराएगी और संस्थागत ऋण प्राणाली को आसान बनाएगी।

रांची। झारखंड विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने रविवार को अपना घोषणापत्र जारी किया। पार्टी ने इसमें वादा किया कि अगर वह सत्ता में आई तो किसानों के दो लाख रुपये तक के कर्ज को माफ करेगी और भीड़ हिंसा के खिलाफ कानून बनाएगी। झारखंड में कांग्रेस के प्रभारी आरपीएन सिंह ने घोषणा पत्र जारी करते हुए वादा किया कि उनकी पार्टी की सरकार किसानों को साहूकारों के चंगुल से मुक्त कराएगी और संस्थागत ऋण प्राणाली को आसान बनाएगी। 

इसे भी पढ़ें: झारखंड कांग्रेस प्रमुख का आरोप, नाकामी छुपाने के लिए राम मंदिर का मामला उठा रही है भाजपा

उन्होंने कहा कि प्रभावी किसान फसल बीमा योजना लागू की जाएगी और कीटपंतगों और प्राकृतिक आपदा से फसल को नुकसान होने पर उचित मुआवजा दिया जाएगा। किसानों को उचित कीमत पर आधुनिक कृषि उपकरण और उर्वरक उपलब्ध करवाया जाएगा। घोषणा पत्र में कांग्रेस ने वादा किया है कि जाति, धर्म और लिंग के आधार पर की गई भीड़ हिंसा के खिलाफ कानून बनाएगी और प्रभावित परिवारों के पुनर्वास के लिए कदम उठाएगी। 

उल्लेखनीय है कि झारखंड विधानसभा की 81 सीटों पर 30 नवंबर से 20 दिसंबर के बीच पांच चरणों में होने वाले मतदान के लिए कांग्रेस, झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के साथ मिलकर चुनाव लड़ रही है। पार्टी ने धान के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) को 2,500 रुपये प्रति क्विंटल करने और फलों और सब्जियों के लिए अलग से एमएसपी बनाने का भरोसा दिया है। कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में कहा कि वह वन उत्पादों के उचित मूल्य दिलाने के लिए भी कदम उठाएगी। 

इसे भी पढ़ें: राजनाथ की नक्सलियों को चेतावनी, हिंसा दो छोड़ नहीं तो उचित जवाब देगी सरकार

कांग्रेस ने वादा किया है कि वह कृषि आधारित कल्याणकारी योजनाओं की शुरुआत करेगी जिसका लाभ भूमिहीन किसानों, मजदूरों और महिलाओं को होगा। पार्टी ने सामाजिक कार्यकर्ताओं खिलाफ दर्ज मामलों की समीक्षा के लिए आयोग भी बनाने का ऐलान किया है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।