प्रियंका चतुर्वेदी ने स्वास्थ्य मंत्री को लिखा पत्र, वैक्सीनेशन अभियान में निजी अस्पतालों को शामिल करने की मांग

Priyanka Chaturvedi
शिवसेना सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने कोरोना वैक्सीन को आसानी से मुहैया कराए जाने के विषय पर डॉ. हर्षवर्धन को पत्र लिखा। जिसमें उन्होंने कोविन (CoWin App) की खामियों का भी जिक्र किया।

मुंबई। देश में कोरोना संक्रमण के मामलों में एक बार फिर से वृद्धि देखी गई है। देश में 19 दिनों के बाद कोविड-19 के 13,000 से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं। साथ ही इस वायरस के नए स्वरूप भी पाए गए है। इसी को लेकर शिवसेना सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन को पत्र लिखकर चिंता जाहिर की है। उन्होंने पत्र में आंकड़ा साझा करते हुए कहा कि हमारे फ्रंटलाइन वर्कर्स को भी पूरी तरह से वैक्सीन नहीं मिल पाई है। ऐसे में क्या हमें वैक्सीन मुहैया कराने की रणनीति में बदलाव नहीं करना चाहिए। 

इसे भी पढ़ें: प्रियंका चतुर्वेदी ने उठाया था चीन में फंसे नाविकों का मुद्दा, मंडाविया ने कहा- 14 फरवरी को लौटेंगे भारत 

प्रियंका चतुर्वेदी ने कोरोना वैक्सीन को आसानी से मुहैया कराए जाने के विषय पर डॉ. हर्षवर्धन को पत्र लिखा। जिसमें उन्होंने कोविन (CoWin App) की खामियों का भी जिक्र किया। उन्होंने अपने पत्र के जरिए केंद्रीय मंत्री से अपील की वैक्सीनेशन अभियान में निजी अस्पतालों की भी भागीदारी सुनिश्चित की जाए ताकि जल्द-से-जल्द अधिक लोगों को वैक्सीन मिल सके। 

इसे भी पढ़ें: रिपब्लिक डे परेड में इस साल नहीं होगा कोई विदेशी मुख्य अतिथि तो कांग्रेस-शिवसेना ने कर दी समारोह रद्द करने की मांग 

शिवसेना सांसद ने कहा कि मोबाइल वैक्सीनेशन केंद्र खोले जाने की आवश्यकता है। इसके साथ ही उन्होंने कोविन एप में आ रही दिक्कतों को भी सुधारने की भी मांग की। उन्होंने कहा कि भारत वैक्सीनमैत्री के माध्यम से दुनिया के देशों को वैक्सीन मुहैया करा रहा है लेकिन आम भारतीयों के लिए आसानी से उपलब्ध नहीं है। इस पर सरकार को ध्यान देने की आवश्यकता है ताकि देश में बनी वैक्सीन का लाभ हर भारतीय को मिल सके। इसके साथ ही उन्होंने सरकार से मांग की है कि वैक्सीन की कीमत सरकार तय कर दे ताकि उससे ज्यादा दाम पर इसे न बेचा जा सके। उल्लेखनीय है कि कोरोना के 13 हजार नए मामले सामने आने के साथ ही संक्रमितों की आंकड़ा बढ़कर 1,09,63,394 हो गया। जबकि 1,06,67,741 मरीज पूर्णत: स्वस्थ हो चुके हैं।

 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़