क्लीनिकल आकलन के लिए अब कोरोना संक्रमित मरीजों को कोविड केयर सेंटर नहीं जाना होगा: सिसोदिया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जून 25, 2020   20:08
क्लीनिकल आकलन के लिए अब कोरोना संक्रमित मरीजों को कोविड केयर सेंटर नहीं जाना होगा: सिसोदिया

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि जिन लोगों के भी रैपिड जांच में कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि होगी, उनका मौके पर ही मेडिकल अधिकारी क्लीनिकल आकलन करेंगे।

नयी दिल्ली। दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बृहस्पतिवार को कहा कि कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों को घर पर पृथक रहने या अस्पताल में भर्ती होने के संबंध में क्लीनिकल आकलन के लिये कोविड देखभाल केंद्र नहीं जाना होगा। सिसोदिया ने राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एसडीएमए) की बैठक के बाद यह कहा। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों के कोविड देखभाल केंद्र जाने की जरूरत के बारे में केंद्र के आदेश को बैठक में वापस लेने का फैसला किया गया। सिसोदिया ने कहा कि जिन लोगों के भी रैपिड जांच में कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि होगी, उनका मौके पर ही मेडिकल अधिकारी क्लीनिकल आकलन करेंगे। 

इसे भी पढ़ें: दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच अस्पतालों में स्वास्थ्यकर्मियों की कमी, बेड की संख्या बढ़ाने में जुटी सरकार 

उन्होंने कहा कि आरटी-पीसीआर जांच में जिनके संक्रमित होने की पुष्टि होगी, उनकी हालत का आकलन जिला निगरानी अधिकारी द्वारा भेजी गई टीम करेगी। आम आदमी पार्टी के नेता ने कहा कि दिल्ली में कोविड-19 के मरीज को घर पर ही पृथक रखना काफी सफल रहा है और इस प्रणाली के तहत कोविड-19 के करीब 30,000 मरीज संक्रमण मुक्त हुए हैं। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...