गिरवी रखी जमीन को भाजपा सांसद को बेचने के संबंध में पूर्व न्यायिक अधिकारी गिरफ्तार

Judicial Officer Detention
दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) के अतिरिक्त आयुक्त आरके सिंह ने बताया कि आरोपी से गलत जानकारी के बाद पीड़ित 21 फरवरी, 2017 को 5.55 करोड़ रुपये के विक्रय पत्र पर जमीन खरीद के लिए राजी हो गए।

नयी दिल्ली|  दिल्ली पुलिस ने 61 वर्षीय पूर्व न्यायिक अधिकारी को दिल्ली के बिजवासन में पहले से ही गिरवी पड़ी संपत्ति को बेचकर एक लोकसभा सदस्य से 5.55 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी करने के आरोप में गिरफ्तार किया।पुलिस ने रविवार को यह जानकारी दी।

पुलिस ने बताया कि आरोपी विनोद कुमार शर्मा ने झांसी से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के लोकसभा सांसद अनुराग शर्मा और अन्य को बिजवासन में एक ऐसी संपत्ति खरीदने के लिए प्रेरित किया जिसे आरोपी ने पहले ही 20.22 करोड़ रुपये के बैंक ऋण के बदले गिरवी रखी हुई है। उसने संपत्ति से संबंधित तथ्य को कथित तौर पर छुपा लिया। आरोपी को शनिवार को गिरफ्तार किया गया।

इसे भी पढ़ें: सत्ता में आए तो शासन के केजरीवाल मॉडल के साथ दिल्ली नगर निकायों में क्रांतिकारी बदलाव करेंगे: आप

दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) के अतिरिक्त आयुक्त आरके सिंह ने बताया कि आरोपी से गलत जानकारी के बाद पीड़ित 21 फरवरी, 2017 को 5.55 करोड़ रुपये के विक्रय पत्र पर जमीन खरीद के लिए राजी हो गए।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़