पूर्व सांसद हरिंदर सिंह खालसा ने किसानों के मुद्दे को लेकर भाजपा से तोड़ा नाता, लगाया गंभीर आरोप

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 26, 2020   21:54
पूर्व सांसद हरिंदर सिंह खालसा ने किसानों के मुद्दे को लेकर भाजपा से तोड़ा नाता, लगाया गंभीर आरोप

पूर्व सांसद हरिंदर सिंह खालसा ने भाजपा नेतृत्व पर आंदोलनकारी किसानों के प्रति असंवेदनशील होने का आरोप लगाते हुए शनिवार को कहा कि उन्होंने पार्टी नेतृत्व के किसानों के प्रति उदासीन रुख के चलते पार्टी से इस्तीफा देने का निर्णय किया।

फतेहगढ़ साहिब। पूर्व सांसद हरिंदर सिंह खालसा ने भाजपा नेतृत्व पर केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों के प्रति उदासीन रवैया अपनाने का आरोप लगाते हुए शनिवार को पार्टी छोड़ दी। खालसा (73) ने 2014 में फतेहगढ़ साहिब लोकसभा सीट पर आप आदमी पार्टी (आप) उम्मीदवार के तौर पर जीत दर्ज की थी लेकिन उन्हें आप से उनकी कथित पार्टी विरोधी गतिविधियों के लिए निलंबित कर दिया गया था। वह बाद में 2019 में भाजपा में शामिल हो गए थे। 

इसे भी पढ़ें: भाजपा का आरोप, किसानों के शांतिपूर्ण प्रदर्शन को खूनखराबे में बदलना चाहती है कांग्रेस 

खालसा ने भाजपा नेतृत्व पर आंदोलनकारी किसानों के प्रति असंवेदनशील होने का आरोप लगाते हुए शनिवार को कहा कि उन्होंने पार्टी नेतृत्व के किसानों के प्रति उदासीन रुख के चलते पार्टी से इस्तीफा देने का निर्णय किया। हजारों किसान लगभग एक महीने से दिल्ली की विभिन्न सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे हैं और वे गत सितम्बर में केंद्र द्वारा लाये गए तीन कृषि कानूनों को वापस लिये जाने की मांग कर रहे हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।