समलैंगिक दोस्तों ने LLB छात्र के साथ किया कुकर्म और फिर उतारा मौत के घाट, जानिए पूरा मामला

murder
Prabhasakshi
निधि अविनाश । Jul 04, 2022 12:58PM
22 साल का मृतक छात्र मेडिकल थाना इलाके के जागृति विहार में रहता था और वह एलएलबी की पढ़ाई कर रहा था। परिवार वालों के मुताबिक, 26 जून की शाम 4 बजे राज(बदला हुआ नाम) स्कूटी लेकर घर से निकला था लेकिन वह वापस नहीं लौटा।परिजनों ने इसकी सूचना पुलिस को दी और फिर गुमशुदा की तलाश की गई।

उत्तर प्रदेश के मेरठ में 22 साल के एलएलबी छात्र का शव एक नाले से बरामद किया गया। युवक की लाश एक बोरे में बंद नाले से बरामद की गई। पुलिस ने इस मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। खबरों के मुताबिक, आरोपियों ने पुलिस को बताया कि उन्होंने मृतक के साथ अप्राकृतिक संबंध भी बनाए। 

क्या है पूरा मामला

22 साल का मृतक छात्र मेडिकल थाना इलाके के  जागृति विहार में रहता था और वह एलएलबी की पढ़ाई कर रहा था। परिवार वालों के मुताबिक, 26 जून की शाम 4 बजे राज (बदला हुआ नाम) स्कूटी लेकर घर से निकला था लेकिन वह वापस नहीं लौटा। परिजनों ने इसकी सूचना पुलिस को दी और फिर गुमशुदा की तलाश की गई। पुलिस ने मृतक छात्र के मोबाइल की लोकेशन निकाली जिसमें उसकी आखिरी लोकेशन मेरठ के लिसाड़ी गेट क्षेत्र की मिली। पुलिस ने कॉल डिटेल निकाली और उसके आधार पर पुलिस ने तीन लोगों को हिरासत में लिया। पुलिस ने अलीशान ,सलमान और शावेज को पकड़कर पूछताछ शुरू की जिससे पचा चला कि मामला समलैंगिक गैंग से जुड़ा है। मृतक छात्र ने इन लड़कों का एक वीडियो बनाया था और वह लगातार इन लड़कों को ब्लैकमेल कर रहा था। इस बीच तीनों लड़कों ने छात्र को पैसे देने के लिए उसको लिसाड़ी गेट क्षेत्र बुलाया, जहां लड़ाई होने लगी।

इसे भी पढ़ें: दर्जी की हत्या के बाद उदयपुर के पर्यटन उद्योग को झटका, बुकिंग रद्द करा रहे हैं लोग

इस लड़ाई की बीच शावेज ने अपने साथी आलीशान के साथ मिलकर छात्र की धारधार हथियार से हत्या कर दी और शव को ठिकाने लगाने के लिए सलमान की मदद ली। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि छात्र उन्हें लगातार एक वीडियो के जरिए ब्लैकमेल कर रहा था और पैसों की मांग कर रहा था और इसके लिए ही आलीशान ने छात्र को फैक्ट्री बुलाया। शावेज और आलीशान के साथ छात्र का झगड़ा बढ़ गया और दोनों आरोपियों ने धारधार हथियार से छात्र की हत्या कर दी। बाद में सलमान को फोन करके शव को ठिकाने लगाने की साजिश रची। तीनों आरोपियों ने रात का इंतजार किया और शव को एक बोरे में डालकर पीलोखड़ी पुल के पास नाले में फेंक दिया। आरोपियों की निशानदेही पर पुलिस को छात्र का शव बरामद हुआ। पुलिस अधिकारियों ने कहा कि  इस मामले में मुकदमा दर्ज कर दिया गया है और दोषियों के खिलाफ सख्त कारवाई के निर्देश भी दिए है। 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़