पेट्रोल-डीजल की महंगाई पर सरकार की सफाई, हरदीप पुरी बोले- US और UK की तुलना में कम बढ़े दाम

hardeep s puri
अंकित सिंह । Apr 05, 2022 4:42PM
केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री हरदीप पुरी ने कहा कि भारत में ईंधन की कीमतों में बढ़ोतरी अन्य देशों में कीमतों में बढ़ोतरी का 1/10वां हिस्सा है। अप्रैल 2021 से 22 मार्च के बीच गैसोलीन (पेट्रोल) की कीमतों की तुलना में, अमेरिका में कीमतों में 51%, कनाडा में 52%, जर्मनी में 55%, यूके में 55%, फ्रांस में 50%, स्पेन में 58% लेकिन भारत में 5% की वृद्धि हुई है।

देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगातार वृद्धि हो रही है। बीते दो हफ्तों से तेल कंपनियों ने लगातार पेट्रोल और डीजल के दामों में धीरे-धीरे बढ़ोतरी कर रहे हैं। सिर्फ 24 मार्च और 1 अप्रैल को पेट्रोल और डीजल के दामों में कोई बदलाव नहीं हुआ। पिछले 15 दिनों की बात करें तो पेट्रोल की कीमत 9.20 रुपए प्रति लीटर बढ़ गया है। डीजल की कीमतों में भी लगातार इजाफा हो रहा है। यही कारण है कि विपक्ष पेट्रोल-डीजल की कीमतों में वृद्धि को लेकर सरकार पर हमलावर है। आम लोगों का बजट भी बिगड़ रहा है। आम लोगों के ऊपर महंगाई की सीधी मार पड़ रही है।

महंगाई को लेकर आलोचनाओं का सामना कर रही सरकार ने सफाई दी है। संसद में केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री हरदीप पुरी ने कहा कि भारत में ईंधन की कीमतों में बढ़ोतरी अन्य देशों में कीमतों में बढ़ोतरी का 1/10वां हिस्सा है। अप्रैल 2021 से 22 मार्च के बीच गैसोलीन (पेट्रोल) की कीमतों की तुलना में, अमेरिका में कीमतों में 51%, कनाडा में 52%, जर्मनी में 55%, यूके में 55%, फ्रांस में 50%, स्पेन में 58% लेकिन भारत में 5% की वृद्धि हुई है। राज्यसभा में विपक्षी दलों के सदस्यों ने पेट्रोलियम उत्पादों के दामों में हो रही वृद्धि और इसके चलते बढ़ती महंगाई को लेकर चिंता जताई तथा सरकार से इस पर तत्काल चर्चा किए जाने की मांग की। सदस्यों ने दवाओं की कीमतों में वृद्धि को लेकर भी चिंता जाहिर की। 

इसे भी पढ़ें: Parliament Diary। दंड प्रक्रिया शिनाख्त विधेयक पर लोकसभा में हुई चर्चा, अमित शाह ने कही यह बात

सदन में विपक्ष के नेता और कांग्रेस के वरिष्ठ सदस्य मल्लिकार्जुन खडगे ने आपत्ति जताते हुए कहा कि विपक्ष हर दिन विपक्ष पेट्रोल, डीजल, एलपीजी, पीएनजी तथा दवाओं की कीमतों में वृद्धि पर चर्चा करने के लिए अनुरोध करता है लेकिन उनकी मांग को अस्वीकार कर दिया जाता है। उन्होंने कहा कि कीमतें लगातार बढ़ रही हैं लेकिन सरकार इस पर चर्चा करने के लिए तैयार नहीं है। लोकसभा में कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने महंगाई के विषय को उठाने का प्रयास किया। उन्होंने कहा कि महंगाई के मुद्दे पर चर्चा होनी चाहिए। इसके बाद द्रमुक, तृणमूल कांग्रेस के सदस्यों ने भी कुछ कहने का प्रयास किया। लेकिन लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने प्रश्नकाल की कार्यवाही शुरू करने का निर्देश दिया। इस दौरान विपक्षी सदस्य आसन के समीप आकर नारेबाजी करने लगे। उनके हाथों में तख्तियां भी थीं।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़