अगले गणतंत्र दिवस परेड की तैयारियां शुरू ! विशेष अतिथियों की लिस्ट तैयार कर रही सरकार

अगले गणतंत्र दिवस परेड की तैयारियां शुरू ! विशेष अतिथियों की लिस्ट तैयार कर रही सरकार

रक्षा मंत्रालय ने मई में सरकारी विभागों को अपने संबंधित क्षेत्रों के व्यक्तियों के नाम और संपर्क विवरण प्रदान करने के लिए पत्र लिखे थे।

नयी दिल्ली। अगले साल होने वाली गणतंत्र दिवस परेड को लेकर सरकार ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। प्राप्त जानकारी के मुताबिक देश, विदेश की जानी मानी हस्तियों और कला, संस्कृति, रंगमंच, विज्ञान, खेल और सेना से जुड़े विशेष लोगों की सूची तैयार की जा रही है। जिन्हें गणतंत्र दिवस परेड का न्यौता भेजा जाना है। 

इसे भी पढ़ें: ड्रोन के जरिये बड़े हमले की प्लानिंग कर रहे आतंकी, 15 अगस्त से पहले दिल्ली में हो सकता है अटैक 

अंग्रेजी समाचार पत्र 'द टाइम्स ऑफ इंडिया' की रिपोर्ट के मुताबिक रक्षा मंत्रालय ने मई में सरकारी विभागों को अपने संबंधित क्षेत्रों के व्यक्तियों के नाम और संपर्क विवरण प्रदान करने के लिए पत्र लिखे थे। जिन्हें वे परेड के लिए आमंत्रित करने की सिफारिश करना चाहते हैं। इसके साथ ही पत्र में उन व्यक्तियों के विशेष योगदान और उपलब्धि को कुछ शब्दों में इंगित करने के लिए कहा गया था।

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक गणतंत्र दिवस परेड में आमंत्रित करने वाले लोगों के नामों की सिफारिश करने की अंतिम तिथि 15 जून थी। आपको बता दें कि अगले साल होने वाली गणतंत्र दिवस परेड नवीनीकृत राजपथ पर होगी।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक सेंट्रल विस्टा पुनर्विकास योजना के तहत राष्ट्रपति भवन से लेकर इंडिया गेट तक चल रहा कार्य नवंबर तक पूरा हो सकता है। हाल ही में केंद्रीय आवास और शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा था कि राजपथ का कार्य समय पर पूरा हो जाएगा और इसके पूरा होने के बाद लोगों को ऐसा अवसर मिलेगा, जिसपर उन्‍हें गर्व होगा।  

इसे भी पढ़ें: कारगिल विजय दिवस पर बोले पीएम मोदी, जवानों की वीरता हर दिन प्रेरित करती रहेगी 

बता दें कि अगले साल मनाए जाने वाले 75वें गणतंत्र दिवस के मौके पर राष्ट्रपति नवनिर्मित राजपथ पर झंडा फहराएंगे। उम्मीद जताई जा रही है कि कोरोना वायरस संक्रमण अगर समाप्त हो गया तो फव्य कार्यक्रम का आयोजन हो सकता है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।