हेड मास्टर ने शिक्षक को दी धमकी,कहा- कायदे से बात करना नहीं तो जूते से बात होगी, वीडियो हुआ वायरल

Headmaster and teacher viral video
सुयश भट्ट । Jan 29, 2022 5:18PM
शिक्षक मनीष मिश्रा ने अटेंडेंस रजिस्टर पर अब्सेंट लगा दी थी। जब हेडमास्टर काफी देर के बाद स्कूल पहुंचे तो अटेंडेंस रजिस्टर देखकर उनका पारा चढ़ गया। जिसके बाद हेडमास्टर उदय सिंह और शिक्षक मनीष मिश्रा में विवाद होने लगा।

भोपाल। मध्य प्रदेश के भिंड जिले से एक हेड मास्टर की दबंगई का मामला सामने आया है। एक वीडियो में शासकीय माध्यमिक विद्यालय का हेड मास्टर शिक्षक को धमकी दे रहे हैं। हेड मास्टर शिक्षक से बोल रहे हैं कि ज्यादा बात मत करना नहीं तो जूतों से बात होगी। स्कूल से घर नहीं जा पाओगे, जीप से बांधकर खींचूंगा। 

दरअसल मामला भिंड शहर के 15 किलोमीटर दूर रानी बिरंगवा के शासकीय विद्यालय के हेडमास्टर उदय सिंह और शिक्षक मनीष के बीच किसी बात को लेकर विवाद चल रहा था। जानकारी मिली है कि शुक्रवार को हेडमास्टर उदयसिंह समय से स्कूल नहीं पहुंचे थे।

इसे भी पढ़ें:CM शिवराज के हेलीकॉप्टर में आई खराबी, सीएम ड्यूटी में जा रहे पुलिस जवानों का वाहन हुआ दुर्घटनाग्रस्त 

ऐसे में शिक्षक मनीष मिश्रा ने अटेंडेंस रजिस्टर पर अब्सेंट लगा दी थी। जब हेडमास्टर काफी देर के बाद स्कूल पहुंचे तो अटेंडेंस रजिस्टर देखकर उनका पारा चढ़ गया। जिसके बाद हेडमास्टर उदय सिंह और शिक्षक मनीष मिश्रा में विवाद होने लगा।

वहीं विवाद के दौरान हेडमास्टर ताव में आ गए, उन्होंने शिक्षक मनीष से कहा कि बात किससे कर रहा है यह ध्यान रखना। नहीं तो अब जूतों से बात होगी। अगर जुबान निकाली तो तुम घर तक नहीं पहुंच पाओगे। जीप से खींच कर ले जाऊंगा।

इसे भी पढ़ें:उच्च शिक्षा मंत्री को कांग्रेस की चेतावनी, मांफी नहीं मांगने पर इंदौर में नहीं घुसने देंगे 

आपको बता दें कि  हेड मास्टर उदय सिंह के द्वारा शिक्षक को दी गई धमकी का वीडियो बन गया। जो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसके बाद वरिष्ठ अधिकारियों तक पहुंचा। इस मामले में जिले के शिक्षा अधिकारी हरिभवन तोमर ने हेड मास्टर को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़