कमलनाथ बताएं, उद्योगपति नहीं हैं तो अरबों की संपत्ति कहां से आई: शिवराज सिंह चौहान

Shivraj Singh Chauhan, Chief Minister
दिनेश शुक्ल । Oct 25, 2020 6:25PM
चौहान ने कहा कि कांग्रेस पार्टी दिशाहीन और गतिहीन हो गई है। कमलनाथ जी ने मंत्री इमरती देवी पर टिप्पणी की। राहुल गांधी जी ने इसे दुर्भाग्यपूर्ण माना, क्षमा मांगी, लेकिन कमलनाथ ने माफी मांगने से मना कर दिया। कांग्रेस पार्टी ये किस दिशा में जा रही है।

भोपाल। कमलनाथ जी को आत्मचिंतन करने की जरूरत है कि कांग्रेस की यह दुर्गति क्यों हो रही है? मुझे गाली देने से काम नहीं चलेगा। मुझे तो कांग्रेस के लोग इतने विशेषण दे रहे हैं, लेकिन मुझे फर्क नहीं पड़ता। कोई कहता है ये ट्रक भरकर नारियल लेकर चलता है, कोई कहता है भूखा-नंगा है। लेकिन मैंने कमलनाथ जी से उद्योगति कहा, तो बुरा मान गए। कह रहे हैं मैं उद्योगपति नहीं हूं। कमलनाथ जी की इस बात से एक सवाल मेरे मन में आया है कि अगर कमलनाथ जी उद्योगपति नहीं हैं, तो फिर ये अरबों की संपत्ति कहां से आई, जिसकी उन्होंने घोषणा की है? बिना उद्योग-धंधे के कमाई का अगर कोई तरीका है, तो कमलनाथ जी को उसे प्रदेश की जनता को भी बताना चाहिए। यह बात मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने रविवार को कांग्रेस के पूर्व विधायक राहुल लोधी के सदस्यताग्रहण समारोह में कही। इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा एवं पूर्व विधायक राहुल लोधी ने भी संबोधित किया।

इसे भी पढ़ें: भाजपा 28 विधानसभाओं में चलाएगी विजय जनसंपर्क अभियान

चौहान ने कहा कि कांग्रेस पार्टी दिशाहीन और गतिहीन हो गई है। कमलनाथ जी ने मंत्री इमरती देवी पर टिप्पणी की। राहुल गांधी जी ने इसे दुर्भाग्यपूर्ण माना, क्षमा मांगी, लेकिन कमलनाथ ने माफी मांगने से मना कर दिया। कांग्रेस पार्टी ये किस दिशा में जा रही है। ऐसा लगता है जैसे राहुल गांधी की कांग्रेस अलग है और कमलनाथ जी की कांग्रेस अलग है। सारी चीजें एक व्यक्ति के हाथों में केन्द्रित हैं। पहले प्रदेश अध्यक्ष बन गए।  मुख्यमंत्री की बात आई तो मुख्यमंत्री बन गए, नेता प्रतिपक्ष की बात आई, तो नेता प्रतिपक्ष बन गए। बीच में नकुलनाथ के युवाओं के नेता बनने की भी बात सामने आई थी। सब कुछ कमलनाथ, बाकी कांग्रेस अनाथ। ऐसा लगता है कि कांग्रेस बिखर रही है।

इसे भी पढ़ें: उप चुनाव से पहले कांग्रेस को एक और झटका, विधायक इस्तीफा देकर बीजेपी में हुआ शामिल

चौहान ने कहा कि कांग्रेस ने सरकार में रहते विकास ठप कर दिया। कोई वादा और वचन निभाया नहीं। जनहित की सारी योजनाएं बंद कर दीं। इन सब चीजों से कांग्रेस के प्रति उन लोगों का मोहभंग हो रहा है, उम्मीद टूट रही है, जिनमें विकास की ललक है, जो अपने क्षेत्र और प्रदेश का विकास चाहते हैं। ऐसे लोग कांग्रेस छोड़ रहे हैं। श्री चौहान ने कहा कि भाजपा विकास के लिए ही है। उन्होंने कहा कि मैं पार्टी की सदस्यता लेने पर राहुल लोधी का स्वागत करता हूं और उन्हें यह विश्वास दिलाता हूं कि दमोह में मेडिकल कॉलेज भी खोलेंगे और विकास को लेकर जो बातें उनके मन में हैं, उन्हें भी पूरा करेंगे। अब हम सब मिलकर प्रदेश का विकास करेंगे।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़