भाजपा को बड़ा झटका दे सकते हैं हेमंत सोरेन, JMM का दावा- हमारे संपर्क में 16 विधायक

Hemant Soren
ANI Image
अनुराग गुप्ता । Jul 25, 2022 10:22PM
झामुमो का दावा है कि भाजपा के 16 विधायक हमारे संपर्क में हैं और वो भाजपा में घुटन महसूस कर रहे हैं। झामुमो के इस दावे के बाद राजनीति में हलचल तेज हो गई है। हालांकि भाजपा ने झामुमो के दावों का खंडन किया है और कहा है कि हेमंत सोरेन खुद अस्तित्व बचाने की लड़ाई लड़ रहे हैं।

रांची। झारखंड की सत्तारूढ़ झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को बड़ा झटका दे सकती है। झामुमो का दावा है कि भाजपा के 16 विधायक हमारे संपर्क में हैं और वो भाजपा में घुटन महसूस कर रहे हैं। झामुमो के इस दावे के बाद प्रदेश की राजनीति में हलचल तेज हो गई है। हालांकि भाजपा ने झामुमो के दावों का खंडन किया है और कहा है कि हेमंत सोरेन खुद अस्तित्व बचाने की लड़ाई लड़ रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: झारखंड को PM मोदी ने दिए कई बड़े तोहफे, कहा- पूर्वी भारत के विकास को मिलेगा रफ्तार 

रिपोर्ट्स के मुताबिक, झामुमो महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने दावा किया कि प्रदेश में भाजपा के 16 विधायक हमारे संपर्क में हैं। वह कभी भी हेमंत सोरेन सरकार को झटका दे सकते हैं। हालांकि सुप्रिया भट्टाचार्य के दावे का भाजपा नेता प्रतुल शाहदेव ने खंडन किया। उन्होंने कहा कि झामुमो विधायक खुद भ्रष्टाचार में लिप्त हैं और हेमंत सोरेन अस्तित्व बचाने की लड़ाई लड़ रहे हैं।

एक प्रेस वार्ता के दौरान सुप्रियो भट्टाचार्य से मीडियाकर्मियों ने सवाल किया कि क्या हेमंत सोरेन सरकार को खतरा तो नहीं है। इस सवाल के जवाब में सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि भाजपा के 16 विधायक तो खुद हमारे संपर्क में हैं। वह अपनी पार्टी में घुटन महसूस कर रहे हैं। ऐसे में वो कभी भी हेमंत सोरेन सरकार का समर्थन कर सकते हैं।

पिछले कुछ वक्त से झारखंड की राजनीति में राजग की रणनीति के चलते काफी बदलाव देखने को मिला है। हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झारखंड का दौरा किया था और एक जनसभा को भी संबोधित किया था। जिसमें हेमंत सोरेन ने उनका जमकर स्वागत किया था और तो और झामुमो ने राष्ट्रपति चुनाव में राजग उम्मीदवार का खुलकर समर्थन भी किया था। इसे भाजपा की रणनीति का हिस्सा माना जा रहा है। क्योंकि द्रौपदी मुर्मू झारखंड की राज्यपाल रह चुकी हैं और वो आदिवासी महिला उम्मीदवार थीं

इसे भी पढ़ें: झारखंड के एक गांव में 75% हुई मुस्लिम आबादी तो प्रिंसिपल पर दबाव डालकर बदलवा दी स्कूल की प्रार्थना

राजग उम्मीदवार को किया था समर्थन

झामुमो ने राष्ट्रपति चुनाव में विपक्ष के संयुक्त उम्मीदवार यशवंत सिन्हा को झटका देते हुए भाजपा के नेतृत्व वाले राजग के उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू का समर्थन किया था। आपको बता दें कि द्रौपदी मुर्मू ने यशवंत सिन्हा के खिलाफ राष्ट्रपति चुनाव में बड़ी जीत दर्ज की थी और फिर सोमवार को उन्होंने 15वें राष्ट्रपति के तौर पर शपथ ग्रहण की।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़