केरल में ट्वेंटी-20 से नाता जोड़कर केजरीवाल ने पीपुल्स वेलफेयर अलायंस की घोषणा की

Arvind Kejriwal
ANI Photo.
पर यह आरोप लगाया कि वे युवाओं को रोजगार प्रदान करने में रुचि नहीं रखते हैं। किटेक्स समूह द्वारा संचालित राजनीतिक दल ट्वेंटी-20 द्वारा आयोजित एक जनसभा में भाग लेते हुए केजरीवाल ने कहा कि यहां राजनीतिक दल इस राज्य के बच्चों को नौकरी नहीं देंगे, क्योंकि वे ऐसे लोग चाहते हैं जो दंगा कर सकें और गुंडागर्दी फैला सकें।

कोच्चि| दिल्ली के मुख्यमंत्री एवं आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने केरल में राजनीतिक पैठ बढ़ाने की योजना के तहत रविवार को यहां एक व्यापारिक समूह द्वारा संचालित राजनीतिक दल ‘ट्वेंटी-20’ के साथ अपनी पार्टी के राजनीतिक गठबंधन की घोषणा की। उन्होंने राज्य में मुख्यधारा के राजनीतिक दलों पर यह आरोप लगाया कि वे युवाओं को रोजगार प्रदान करने में रुचि नहीं रखते हैं।

किटेक्स समूह द्वारा संचालित राजनीतिक दल ट्वेंटी-20 द्वारा आयोजित एक जनसभा में भाग लेते हुए केजरीवाल ने कहा कि यहां राजनीतिक दल इस राज्य के बच्चों को नौकरी नहीं देंगे, क्योंकि वे ऐसे लोग चाहते हैं जो दंगा कर सकें और गुंडागर्दी फैला सकें।

आप प्रमुख ने विभिन्न परियोजनाओं का उल्लेख करते हुए कहा कि उनकी सरकार ने दिल्ली में 12 लाख लोगों को रोजगार दिया है। केजरीवाल ने कहा, ‘‘अन्य पार्टियों के लोग इस राज्य के बच्चों को नौकरी नहीं देंगे, वे शिक्षा नहीं देंगे। क्यों?

क्योंकि वे ऐसे लोग चाहते हैं जो दंगा कर सकें, जो गुंडागर्दी फैला सकें। हम सभ्य लोग हैं, हम इनमें से कुछ भी करना नहीं जानते हैं। हम इस तरह की प्रथाओं में शामिल नहीं होना चाहते।’’ दोनों दलों ने हाथ मिलाने की घोषणा की है और इस गठबंधन को पीपुल्स वेलफेयर अलायंस (पीडब्ल्यूए) का नाम दिया है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़