संविधान दिवस पर मंगलवार से विधानमण्डल का विशेष सत्र

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 25, 2019   16:04
संविधान दिवस पर मंगलवार से विधानमण्डल का विशेष सत्र

सत्र के दौरान संविधान की प्रस्तावना और मौलिक कर्तव्यों तथा संविधान के शिल्पी डॉक्टर भीमराव आम्बेडकर के सिद्धांतों पर व्यापक चर्चा होगी। इस सत्र में मुख्य विपक्षी पार्टियों सपा, बसपा और कांग्रेस के भी हिस्सा लेने की पूरी सम्भावना है।

लखनऊ। संविधान दिवस के मौके पर उत्तर प्रदेश विधानमण्डल का 24 घंटे का विशेष सत्र मंगलवार को शुरू होगा। आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक यह विशेष सत्र पूर्वाह्न 11 बजे राज्यपाल आनंदीबेन पटेल द्वारा समवेत सदन को सम्बोधन के साथ शुरू होगा। सत्र के दौरान संविधान की प्रस्तावना और मौलिक कर्तव्यों तथा संविधान के शिल्पी डॉक्टर भीमराव आम्बेडकर के सिद्धांतों पर व्यापक चर्चा होगी। इस सत्र में मुख्य विपक्षी पार्टियों सपा, बसपा और कांग्रेस के भी हिस्सा लेने की पूरी सम्भावना है।

इसे भी पढ़ें: अब NCP नेता नवाब मलिक ने ट्विटर के जरिए दिया बड़ा बयान

इसके पूर्व, गत दो अक्टूबर को महात्मा गांधी की 150वीं जयन्ती पर विधानमण्डल की 36 घंटे की अनवरत बैठक हुई थी। मगर सपा, बसपा और कांग्रेस ने उसका बहिष्कार किया था। हालांकि सपा प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी का कहना है कि उनकी पार्टी संविधान दिवस पर आयोजित होने वाले विशेष सत्र में हिस्सा लेगी। वहीं, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने भी कहा कि उनका दल भी इस विशेष सत्र में भाग लेगा और सरकार को संवैधानिक मूल्यों का आईना दिखायेगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।