जीएसटी के खिलाफ कैट के भारत व्यापार बंद में मध्य प्रदेश भी शामिल

 CAIT's India trade-off against GST
दिनेश शुक्ल । Feb 26, 2021 11:39AM
मध्य प्रदेश के सभी व्यापारी संस्थाएं जीएसटी की विसंगतियों एवं जटिलताओं को लेकर भारत बंद को अपना समर्थन दिया है। जीएसटी लागू होने के बाद 4 साल में 937 से ज्यादा बार संशोधन हो गए हैं ।
भोपाल। देश की सर्वोच्च व्यापारी संस्था कनफेडरेशन ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) द्वारा 26 फरवरी को भारत व्यापार बंद का आह्वान किया है कैट के पूर्व प्रवक्ता एवं सदस्य विवेक साहू ने बताया कि मध्य प्रदेश के भोपाल, इंदौर, गवालियर, जबलपुर, सतना, रीवा, सागर, विदिशा, होशंगाबाद, नीमच, नरसिंहपुर, उज्जैन सहित मध्य प्रदेश के सभी व्यापारी संस्थाएं जीएसटी की विसंगतियों एवं जटिलताओं को लेकर भारत बंद को अपना समर्थन दिया है। जीएसटी लागू होने के बाद 4 साल में 937 से ज्यादा बार संशोधन हो गए हैं ।

 

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश विधानसभा में हंगामा, आदिवासी विधायक ने बताया जान का खतरा

केंद्र सरकार को जीएसटी को लेकर उचित कदम उठाना चाहिए। कैट के संयुक्त अध्यक्ष सुनील अग्रवाल, चेयरमैन मुरली हरवानी, उपाध्यक्ष सुनील जैन, संतोष अग्रवाल, अंशु गुप्ता ने बताया कि 8 फरवरी को नागपुर में आयोजित तीन दिवसीय राष्ट्रीय व्यापार सम्मेलन में देश के लगभग 200 व्यापारिक संगठनों के प्रतिनिधियों ने भाग लेकर भारत व्यापार बंद का आह्वान किया था। जीएसटी में व्यापारियों को अत्यधिक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

 

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश विधानसभा में उठा ग्वालियर में अवैध रेत खनन का मामला

विवेक साहू ने बताया कि व्यापारी व्यापार से ज्यादा जीएसटी की विसंगतियों को दूर करने के लिए भाग दौड़ रहा है। इसी को देखते हुए विरोध स्वरूप व्यापारी 26 फरवरी को जीएसटी पोर्टल पर लॉगिन नहीं करेंगे। कैट के जिला अध्यक्ष रामबाबू शर्मा ने बताया कि भोपाल के सभी व्यापारी संगठनों ने भारत व्यापार बंद को अपना समर्थन दिया है और पूर्ण रूप से भोपाल जीएसटी के विरोध में बंद रहेगा।

अन्य न्यूज़