अराजकता के ज्वालामुखी पर बैठा है मध्य प्रदेश, सीएम और गृहमंत्री छुट्टी पर- भूपेन्द्र गुप्ता

CM and Home Minister are on vacation
दिनेश शुक्ल । Mar 30, 2021 8:54PM
भूपेंद्र गुप्ता ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर तंज कसते हुए कहा कि टाइगर जी छुट्टी पर हैं और जो नरों में उत्तम हैं ऐसे मंत्री मंदिर की यात्रा पर हैं। गुप्ता ने सरकार से सवाल किया है कि तो इन परिस्थितियों को कौन संभालेगा ? इसका जवाब सरकार की तरफ से आना चाहिए।
भोपाल। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया उपाध्यक्ष भूपेन्द्र गुप्ता ने प्रदेश की भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि अराजकता के ज्वालामुखी पर प्रदेश बैठा है, जबकि सीएम और गृहमंत्री छुट्टी पर है। दरआसल मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान होली की छुट्टी पर परिवार के साथ पन्ना में हैं, वही गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा माता वैष्णो देवी की यात्रा पर हैं।

 

इसे भी पढ़ें: भिण्ड में सैनिटाइजर पीने से दो लोगों की मौत, एक की हालत गंभीर

जिसको लेकर कांग्रेस मीडिया उपाध्यक्ष भूपेन्द्र गुप्ता ने निशाना साधा है। उन्होंने मंगलवार को एक बयान जारी कर कहा है कि मध्य प्रदेश में कानून व्यवस्था की अराजक स्थिति को कौन संभालेगा ? यह प्रश्न प्रदेश की जनता के मन में कौंध रहा है। अभी तक तो पुलिस के लोग पिट रहे थे, वन विभाग के कर्मचारी पिट रहे थे, अवैध खनन वाले चांदमारी कर रहे थे। केवल मजिस्ट्रेट रह गए थे सो अब उन्हें भी अपराधी बेखौफ चाकू मार रहे हैं। कट्टे के बट से मार रहे हैं। मध्य प्रदेश में इन परिस्थितियों के लिए कौन जिम्मेदार है?

 

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश के मुरैना जिले में तेज आंधी के कारण लगी भीषण आग

भूपेंद्र गुप्ता ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर तंज कसते हुए कहा कि टाइगर जी छुट्टी पर हैं और जो नरों में उत्तम हैं ऐसे मंत्री मंदिर की यात्रा पर हैं। गुप्ता ने सरकार से सवाल किया है कि तो इन परिस्थितियों को कौन संभालेगा ? इसका जवाब सरकार की तरफ से आना चाहिए। उन्होंने कहा कि पटवारियों के घर से करोड़ों रुपये की संपत्ति पकड़ी जा रही है। राजधानी में भू-माफिया के बेटे पुलिस को खदेड़ रहे हैं। भाजपा के पूर्व मंत्रियों के परिजनों के फार्म हाउस से करोड़ों की नगदी और कई किलो सोने की लूट हो रही है, लेकिन सरकार मौन है। उसकी तरफ से एक बयान भी नहीं आया है। क्या यह मौन इस बात का संकेत है कि कोरोना की तरह कानून व्यवस्था भी सरकार ने राम भरोसे छोड़कर आत्मनिर्भर बना दी है?

 

इसे भी पढ़ें: पत्नी की प्रताड़ना से तंग आकर पति ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

कांग्रेस नेता ने कहा कि देश की सर्वोच्च अदालत की फटकार से भी अविचलित अपराधी पुलिस की पकड़ से दूर थे। जो अपराधी अभी भी फरार चल रहे हैं उन्हें पकड़ने के लिये सुप्रीम कोर्ट की फटटकार का इंतजार कर रही है। पुलिस गोली चलाकर आत्मरक्षा तो कर रही है, किंतु हाथ में वायरलेस सेट होने और आसपास थाने चौकियां होने के बावजूद भी अवैध रेत से भरे दस-दस ट्रैक्टर-ट्राली भागने में सफल हो रहे हैं। प्रदेश की जनता जानना चाहती है कि कब तक उसे बंगाल चुनाव में व्यस्त गृहमंत्री के दायित्व की कीमत चुकानी पड़ेगी ?

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़