विपक्षी एकता को बल देने की कोशिश, दिल्ली में ममता बनर्जी और अरविंद केजरीवाल की हुई मुलाकात

विपक्षी एकता को बल देने की कोशिश, दिल्ली में ममता बनर्जी और अरविंद केजरीवाल की हुई मुलाकात

दोनों नेताओं के बीच करीब 30 घंटे तक यह मुलाकात चली है। जानकारी के मुताबिक ममता बनर्जी और अरविंद केजरीवाल की मुलाकात अभिषेक बनर्जी के आधिकारिक आवास पर हुई है। आपको बता दें कि अभिषेक बनर्जी ममता बनर्जी के भतीजे होने के साथ-साथ तृणमूल कांग्रेस के महासचिव भी हैं।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी दिल्ली दौरे पर है। हालांकि, बड़ी खबर यह है कि ममता बनर्जी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मुलाकात की है। यह मुलाकात ऐसे समय में हुई है जब विपक्षी एकता को मजबूत करने की कोशिश की जा रही है। दोनों नेताओं के बीच करीब 30 घंटे तक यह मुलाकात चली है। जानकारी के मुताबिक ममता बनर्जी और अरविंद केजरीवाल की मुलाकात अभिषेक बनर्जी के आधिकारिक आवास पर हुई है। आपको बता दें कि अभिषेक बनर्जी ममता बनर्जी के भतीजे होने के साथ-साथ तृणमूल कांग्रेस के महासचिव भी हैं। मुलाकात को लेकर कोई आधिकारिक बयान तो अब तक नहीं आया है। लेकिन तृणमूल कांग्रेस के सूत्रों ने इसे एक शिष्टाचार मुलाकात बताया है।

इसे भी पढ़ें: मोदी के बयान पर ममता बोलीं- पीएम ने की एकतरफा बातें, राज्यों पर नहीं बना सकते दबाव

सूत्रों ने यह भी बताया है कि ममता बनर्जी ने केजरीवाल को पंजाब विधानसभा चुनाव में मिली जीत के लिए बधाई दी है। हालांकि यह बात भी सच है कि गोवा में तृणमूल कांग्रेस और आम आदमी पार्टी अपनी-अपनी किस्मत अकेले आजमा रही थी। दोनों को वहां कोई बड़ी कामयाबी तो नहीं मिली लेकिन अब एक दूसरे के खिलाफ उम्मीदवार उतारने वाली बात भुलाकर ममता और केजरीवाल मुलाकात कर रहे हैं। आपको बता दें कि ममता बनर्जी लगातार विपक्ष को एकजुट करने की कोशिश कर रही है। ममता बनर्जी की पहल गैर कांग्रेस गठबंधन को लेकर भी जारी है। ममता बनर्जी इससे पहले शरद पवार, उद्धव ठाकरे जैसे नेताओं से भी मुलाकात कर चुकी हैं। ममता बनर्जी की ओर से लगातार 2024 की तैयारी की जा रही है।

राष्ट्रीय सम्मेलन के लिए दिल्ली में हैं ममता

राष्ट्रीय सम्मेलन में भाग लेने के लिए ममता बनर्जी दिल्ली आई हुई हैं। वह राष्ट्रीय सम्मेलन में शामिल होंगी जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी मुलाकात करेंगे। हालांकि नरेंद्र मोदी से उनके औपचारिक मुलाकात की कोई खबर नहीं है। उन्होंने यह भी कह दिया है कि वे प्रधानमंत्री से बिना मिले बंगाल लौट जाउंगी क्योंकि मई दिवस और ईद के कार्यक्रमों में शामिल होने के लिए उन्हें कई जगह जाना भी है। ममता ने कहा था कि उन्होंने अपनी वापसी का टिकट बुक करा लिया है। यही कारण है कि मैं इस बार प्रधानमंत्री से मुलाकात नहीं कर पाऊंगी। प्रधानमंत्री से मिलने के लिए मैंने समय नहीं लिया है। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।