महाराष्ट्र के मंत्री अनिल परब के इशारे पर हुई थी नारायण राणे की गिरफ्तारी? वीडियो वायरल

Anil Parab
अंकित सिंह । Aug 25, 2021 11:30AM
अनिल परब के बगल में बैठे एक के शिवसेना विधायक ने भी कहा कि पुलिस ने अब तक राणे को हिरासत में नहीं लिया है। अनिल परब ने फिर आगे बताया कि वे अपने घर में बैठे हैं और चारों तरफ से पुलिस का पहरा है। जब पुलिस अंदर गई तो हाथापाई हुई। अब पुलिस उन्हें बाहर लेकर निकलेगी।

केंद्रीय मंत्री नारायण राणे की गिरफ्तारी के बाद महाराष्ट्र की राजनीति गर्म हो गई है। भाजपा और शिवसेना आमने-सामने है। पुलिस की ओर से उद्धव ठाकरे को लेकर दिए गए बयान पर नारायण राणे को गिरफ्तार किया गया था। हालांकि बाद में कोर्ट की ओर से ₹15000 के निजी मुचलके पर उन्हें रिहा कर दिया गया। इन सब के बीच एक ऐसा वीडियो वायरल हो रहा है जो शिवसेना के लिए मुश्किलें पैदा कर सकता है। वायरल वीडियो में परिवहन मंत्री अनिल परब आदेश देते नजर आ रहे हैं कि बिना किसी देरी को नारायण राणे को गिरफ्तार किया जाए। अगर हम सूत्रों की माने तो अनिल परब प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे थे। इसी दौरान उन्होंने दो बार फोन पर बात की। वैसे तो ऐसा लग रहा था कि अनिल परब धीरे बात करना चाह रहे लेकिन सामने माइक ऑन था जिससे उनकी आवाज सबसे सुन ली।

पहले उनके पास एक फोन आया और फिर उन्होंने एक पुलिस अधिकारी को फोन लगाया। वीडियो में परब यह कहते हुए सुनाई दे रहे हैं हेलो, तुम लोग क्या कर रहे हो? तुम्हें यह करना पड़ेगा। अब तक हिरासत में लिया या नहीं? वह किसके आदेश का इंतजार कर रहे हैं? हाईकोर्ट और स्पेशल कोर्ट ने जमानत याचिका खारिज कर दी है। अब पुलिस फोर्स का इस्तेमाल करो। अनिल परब के बगल में बैठे एक के शिवसेना विधायक ने भी कहा कि पुलिस ने अब तक राणे को हिरासत में नहीं लिया है। अनिल परब ने फिर आगे बताया कि वे अपने घर में बैठे हैं और चारों तरफ से पुलिस का पहरा है। जब पुलिस अंदर गई तो हाथापाई हुई। अब पुलिस उन्हें बाहर लेकर निकलेगी।

इसे भी पढ़ें: राज्य पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए जाने वाले तीसरे केंद्रीय मंत्री हैं नारायण राणे, जानें दो अन्य कौन थे

हालांकि इसी दौरान पत्रकारों ने जब बर्फ से नारायण राणे की गिरफ्तारी को लेकर सवाल किया तो उन्होंने कहा कि इस मामले में मुझे पूरी जानकारी नहीं है और अभी हम कुछ नहीं कह सकते। वहीं, भाजपा ने राज्य सरकार के मंत्री अनिल परब पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों का जिक्र करते हुए सवाल उठाया कि अभी तक उनकी गिरफ्तारी क्यों नहीं हुई। उन्होंने कहा, ‘‘अनिल परब की काली करतूत सब अखबारों में छपी हैं...उन्हें गिरफ्तार नहीं किया जाता, लेकिन यहां पर एक वक्तव्य के कारण आप गिरफ्तार कर लेंगे। बहुत दुख का विषय है। मुझे लगता है कि आज लोकतंत्र महाराष्ट्र में शर्मसार हुआ है...बदले के भाव के साथ जिस प्रकार की राजनीति महाराष्ट्र की सरकार कर रही है, उसे हिंदुस्तान की जनता देख रही है और वह उसका जवाब देगी।’’

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़