सिर्फ ‘द कश्मीर फाइल्स’ ही नहीं, गुजरात फाइल्स के बारे में भी बात होनी चाहिए : सुशील कुमार शिंदे

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 25, 2022   22:20
सिर्फ ‘द कश्मीर फाइल्स’ ही नहीं, गुजरात फाइल्स के बारे में भी बात होनी चाहिए :  सुशील कुमार शिंदे

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री सुशील कुमार शिंदे ने शुक्रवार को कहा कि एक पत्रकार द्वारा गुजरात दंगों पर लिखी किताब का भी ‘द कश्मीर फाइल्स’ जितना प्रचार किया जाना चाहिए। शिंदे ने इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री और भारतीय जनता पार्टी के अन्य नेताओं पर निशाना साधा।

पुणे (महाराष्ट्र)। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री सुशील कुमार शिंदे ने शुक्रवार को कहा कि एक पत्रकार द्वारा गुजरात दंगों पर लिखी किताब का भी ‘द कश्मीर फाइल्स’ जितना प्रचार किया जाना चाहिए। शिंदे ने इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री और भारतीय जनता पार्टी के अन्य नेताओं पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि उन्होंने विवेक अग्निहोत्री द्वारा लिखी और निर्देशित फिल्म नहीं देखी है। उन्होंने कहा, ‘‘मैंने फिल्म (द कश्मीर फाइल्स) नहीं देखी है लेकिन कई लोग इसके बारे में बात कर रहे हैं। लेकिन कश्मीर फाइल्स से पहले पत्रकार राणा अयूब की किताब गुजरात फाइल्स (एनाटॉमी ऑफ कवर-अप) भी है।’’

इसे भी पढ़ें: भारत को सीमा मुद्दे पर मतभेदों को द्विपक्षीय संबंधों में ‘यथोचित स्थान’ पर रखना चाहिए: वांग

शिंदे ने सोलापुर में पत्रकारों से कहा, ‘‘प्रधानमंत्री और अन्य द कश्मीर फाइल्स का प्रचार कर रहे हैं, उन्हें द गुजरात फाइल्स के बारे में भी बात करनी चाहिए।’’ कांग्रेस नेता ने कहा कि किसी भी घटनाक्रम को तोड़-मरोड़कर दिखाना गलत है। उन्होंने कहा कि लोगों की भावनाओं को इस तरीके से भड़काने की कोशिश करना भाजपा की पुरानी रणनीति है। उन्होंने झुग्गी बस्ती के फुटबॉल खिलाड़ियों को दिखाने वाली फिल्म ‘झुंड’ और वंचित शहरी परिवेश में सामाजिक उद्धार के रूप में इसकी भूमिका की तारीख की।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।