पवार ने राफेल के दस्तावेज चोरी होने को लेकर मोदी पर निशाना साधा

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Mar 7 2019 4:39PM
पवार ने राफेल के दस्तावेज चोरी होने को लेकर मोदी पर निशाना साधा
Image Source: Google

उन्होंने कहा, "रक्षा मंत्रालय से गोपनीय दस्तावेज कैसे चोरी हो सकते हैं। अब यह स्पष्ट हो चुका है कि राफेल सौदा कुछ लोगों को फायदा पहुंचाने के लिये किया गया था।

मुंबई। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) प्रमुख शरद पवार ने बृहस्पतिवार को केंद्र सरकार के उस बयान को जिसमें रक्षा मंत्रालय से राफेल लड़ाकू विमान से जुड़े दस्तावेज चोरी होने की बात कही गयी थी को "चौंकाने" वाला करार दिया। पवार ने आश्चर्य जताते हुए कहा कि ऐसी स्थिति में सुरक्षा के मोर्चे पर देश की स्थिति क्या होगी। उन्होंने कहा अब यह स्पष्ट हो चुका है कि "कुछ लोगों के फायदे" के लिये सौदा किया गया। साथ ही उन्होंने यह बताने की मांग की कि सरकार ने चोरी की बात संसद से क्यों छिपाई गई। उन्होंने पाकिस्तान में आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों पर वायुसेना के हवाई हमलों को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर राजनीति करने का आरोप लगाया।

 
गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने मंगलवार को उच्चतम न्यायालय को बताया था कि राफेल विमान समझौते से जुड़े दस्तावेज चोरी हो गए हैं। इससे विपक्षी दलों को पहले से ही विवादों में फंसे 58,000 करोड़ रुपये के सौदे पर दोबारा सवाल उठाने का मौका मिल गया है। कोल्हापुर में राकांपा कार्यकर्ताओं को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये संबोधित करते हुए पवार ने आश्चर्य जताया, "अगर गोपनीय दस्तावेज चोरी हो गए हैं तो सुरक्षा के मोर्चे पर देश की क्या दशा होगी।" 


 
उन्होंने कहा, "रक्षा मंत्रालय से गोपनीय दस्तावेज कैसे चोरी हो सकते हैं। अब यह स्पष्ट हो चुका है कि राफेल सौदा कुछ लोगों को फायदा पहुंचाने के लिये किया गया था। सरकार ने संसद से यह बात क्यों छिपाई।" पवार ने पाकिस्तान में वायुसेना के हवाई हमलों के बारे में कहा, "विपक्ष नहीं बल्कि प्रधानमंत्री मोदी इस मामले पर राजनीति कर रहे हैं, यह दुखद है।" उन्होंने कहा कि भारत पाकिस्तान समेत पडो़सी देशों के साथ शांतिपूर्ण और दोस्ताना संबंध चाहता है। "लेकिन पाकिस्तान की नीयत ऐसी नहीं है।" 


 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video