रीजीजू ने स्कूलों से तकनीकी मूल्यांकन कर फिटनेस पर रिपोर्ट कार्ड देने का सुझाव दिया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 27, 2019   17:17
रीजीजू ने स्कूलों से तकनीकी मूल्यांकन कर फिटनेस पर रिपोर्ट कार्ड देने का सुझाव दिया

खेल मंत्री किरेन रीजीजू ने कहा, ‘‘ प्रधानमंत्री द्वारा फिट इंडिया मूवमेंट शुरू करने के बाद, फिटनेस गतिविधियों के अवलोकन पर केन्द्रीय विद्यालयों से मुझे जो रिपोर्ट कार्ड मिला है वह सभी स्कूलों में सबसे अधिक उत्साहजनक है।’’

नयी दिल्ली। खेल मंत्री किरेन रीजीजू ने बुधवार को सभी स्कूलों से कहा कि वे अपने छात्रों का तकनीकी मूल्यांकन कर फिटनेस रिपोर्ट कार्ड तैयार करें। रीजीजू ने केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के द्वारा शुरु किये गये फिटनेस सप्ताह कार्यक्रम के तहत केन्द्रीय विद्यालय में आयोजित फिट इंडिया मूवमेंट में शामिल हुए। रीजीजू ने कहा, ‘‘ प्रधानमंत्री द्वारा फिट इंडिया मूवमेंट शुरू करने के बाद, फिटनेस गतिविधियों के अवलोकन पर केन्द्रीय विद्यालयों से मुझे जो रिपोर्ट कार्ड मिला है वह सभी स्कूलों में सबसे अधिक उत्साहजनक है।’’

इसे भी पढ़ें: रिजिजू को भरोसा, अपना खोया हुआ गौरव फिर से हासिल करेगी भारतीय हॉकी

उन्होंने कहा, ‘‘ स्कूलों में फिटनेस के लिए एक तकनीकी मूल्यांकन और एक प्रगतिशील रिपोर्ट कार्ड होना चाहिए क्योंकि यह एक छात्र के जीवन का बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा है। हम अपने बच्चों को फिट देखना चाहते हैं। फिट बच्चे हमारे राष्ट्र का भविष्य हैं।’’ इस पहल के तहत सरकारी स्कूलों को नवंबर के दूसरे, तीसरे और चौथे सप्ताह में फिटनेस वीक का आयोजन करना है और रीजीजू ने निजी स्कूलों से भी इसका अनुसरण करने का सुझाव दिया। 

इसे भी पढ़ें: रीजीजू ने गांधी जयंती पर ‘फिट इंडिया प्लॉग रन’ में जुड़ने की अपील देशवासियों से की

खेल मंत्री ने कहा, ‘‘साल के इस समय में फिटनेस सप्ताह का आयोजन अच्छा कदम है। इसका आयोजन सभी केन्द्रीय विद्यालयों में हो रहा है और मैं निजी स्कूलो से भी ऐसा करने को कहूंगा।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ नवंबर और दिसंबर के महीने में सभी स्कूलों में फिट इंडिया सप्ताह का आयोजन अनिवार्य होना चाहिए। फिटनेस एक छात्र के जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा है। जब हम शारीरिक गतिविधि को पाठ्यक्रम में समायोजित करने की कोशिश कर रहे है तब हमें इसके लिए एक मूल्यांकन प्रणाली तैयार करने के तरीके खोजने चाहिए।’’





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।