किसान आंदोलन के मद्देनजर हरियाणा सरकार का बड़ा फैसला, 17 जिलों में इंटरनेट सेवा को किया सस्पेंड

किसान आंदोलन के मद्देनजर हरियाणा सरकार का बड़ा फैसला, 17 जिलों में इंटरनेट सेवा को किया सस्पेंड

सूचना विभाग के अनुसार अंबाला, यमुनानगर, कुरुक्षेत्र, करनाल, कैथल, पानीपत, हिसार, जींद, रोहतक, भिवानी, चरखी दादरी, फतेहाबाद, रेवाड़ी और सिरसा में तत्तकाल प्रभाव से इंटरनेट सेवाओं को 30 जनवरी 2021 शाम बजे तक बंद करने का निर्णय लिया गया है।

किसान आंदोलन को देखते हुए हरियाणा की खट्टर सरकार ने बड़ा फैसला किया है। हरियाणा की मनोहर लाल खट्टर सरकार ने प्रदेश में कल शाम 5 बजे तक इंटरनेट और एसएमएस सेवा को सस्पेंड कर दिया है। सूचना विभाग के अनुसार अंबाला, यमुनानगर, कुरुक्षेत्र, करनाल, कैथल, पानीपत, हिसार, जींद, रोहतक, भिवानी, चरखी दादरी, फतेहाबाद, रेवाड़ी और सिरसा में तत्तकाल प्रभाव से इंटरनेट सेवाओं को 30 जनवरी 2021 शाम बजे तक बंद करने का निर्णय लिया गया है। 

इसे भी पढ़ें: किसान-पुलिस झड़प के बाद हरियाणा के तीन जिलों में इंटरनेट सेवा निलंबित

बता दें कि सरकार किसानों के आंदोलन को देखते हुए सख्त कदम उठा रही है। अधिकारियों को जरूरी दिशा-निर्देश भी दिए गए हैं और इसके साथ ही अफवाहों को फैलने से रोकने के लिए सरकार की तरफ से निर्देश दिए गए हैं।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।