गेंहू के खरीद सीजन को उचित ढंग से पूरा करने के लिए विभाग पूरी तरह तैयार : लाल चंद कटारूचक्क

गेंहू के खरीद सीजन को उचित ढंग से पूरा करने के लिए विभाग पूरी तरह तैयार : लाल चंद कटारूचक्क

किसान भाईचारे को मंत्री ने अपील की कि यदि उनको किसी किस्म की कोई समस्या पेश आती है तो किसी भी समय ज़िला स्तर पर तैनात अधिकारियों के पास पहुँच की जा सकती है। गौरतलब है कि मंत्री द्वारा विशेष तौर पर हुक्म जारी किये गए हैं कि खरीद सम्बन्धी पेश आती मुश्किलों का समय पर निपटारा करना यकीनी बनाया जाये।

चंडीगढ़  राज्य में आगामी गेहूं के खरीद सीजन को मुख्य रखते हुए पंजाब के ख़ाद्य, सिविल सप्लाई और उपभोक्ता मामलों के मंत्री श्री लाल चंद कटारूचक्क ने आज खरीद से जुड़े हर वर्ग ख़ास कर किसानों को भरोसा दिया कि खरीद सीजन को उचित ढंग से पूरा करने चढाने के लिए विभाग ने पूरी तैयारी कर ली है और किसी पक्ष से भी कोई कमी रहने नहीं दी जायेगी।

 

आज यहां एक बयान में उन्होंने यह भी जानकारी दी कि खरीद सीजन के सम्मुख बारदाना पूरी संख्या में उपलब्ध है और ढुलाई के सभी प्रबंध सही ढंग से मुकम्मल करने के लिए टैंडर लगाए जा चुके हैं जिससे समय पर ढुलाई हो सके।

इसे भी पढ़ें: पंजाब सरकार का बड़ा फैसला --विधायकों को सिर्फ एक टर्म पेंशन मिलेगी

एक अन्य अहम जानकारी देते हुये उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा बाहर के राज्यों से अनाज लाकर पंजाब की मंडियों में बेचने वालों के साथ सख़्ती से निपटा जायेगा और ऐसे तत्वों के खि़लाफ़ कानूनी कार्यवाही की जायेगी।

इसे भी पढ़ें: मुख्यमंत्री ने भ्रष्टाचार विरोधी एक्शन लाईन नंबर -9501200200 जारी किया

लाल चंद कटारूचक्क ने यह भी भरोसा दिया कि सरकार, जमीनदारों को सीधी अदायगी समय पर करने के लिए वचनबद्ध है। किसान भाईचारे को मंत्री ने अपील की कि यदि उनको किसी किस्म की कोई समस्या पेश आती है तो किसी भी समय ज़िला स्तर पर तैनात अधिकारियों के पास पहुँच की जा सकती है। गौरतलब है कि मंत्री द्वारा विशेष तौर पर हुक्म जारी किये गए हैं कि खरीद सम्बन्धी पेश आती मुश्किलों का समय पर निपटारा करना यकीनी बनाया जाये।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।