ED की जांच पर कांग्रेस का महासंग्राम, राहुल बोले- देश में लोकतंत्र नहीं, संसद में हमें बोलने नहीं दिया जा रहा

Rahul Gandhi
ANI Image
अनुराग गुप्ता । Aug 05, 2022 10:12AM
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि लोकतंत्र में विपक्ष संस्थाओं के माध्यम से लगती है। लेकिन संस्थाएं सरकार को पूरा समर्थन दे रही हैं क्योंकि वहां पर सरकार के अपने लोग बैठे हुए हैं। संस्थाएं स्वतंत्र नहीं है। हिंदुस्तान की हर एक संस्था आरएसएस के कंट्रोल में है।

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली समेत देशभर में कांग्रेस ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ विशाल विरोध प्रदर्शन का आयोजन किया है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि लोकतंत्र की मौत के बारे में आप सभी को क्या महसूस हो रहा है ? इस देश ने 70 साल में जो कुछ भी बनाया उसे 8 साल में समाप्त कर दिया गया। आज हिंदुस्तान में लोकतंत्र नहीं है बल्कि 4 लोगों की तानाशाही है। हम महंगाई, बेरोजगारी और समाज को बांटने के विषय पर चर्चा करना चाहते हैं। हम प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए और संसद में इस विषय पर चर्चा करना चाहते हैं लेकिन हमें रोका जाता है, गिरफ्तार किया जाता है। हमें संसद में चर्चा नहीं करने दी जाती है।

इसे भी पढ़ें: महंगाई, बेरोजगारी पर कांग्रेस का प्रदर्शन, दिल्ली में कड़ी सुरक्षा बढ़ाई गई 

राहुल गांधी ने कहा कि लोकतंत्र में विपक्ष संस्थाओं के माध्यम से लगती है। लेकिन संस्थाएं सरकार को पूरा समर्थन दे रही हैं क्योंकि वहां पर सरकार के अपने लोग बैठे हुए हैं। संस्थाएं स्वतंत्र नहीं है। हिंदुस्तान की हर एक संस्था आरएसएस के कंट्रोल में है। राहुल गांधी ने कहा कि हमारी सरकार में इंफ्रास्टर निष्पक्ष होता थी। संस्थाओं को निष्पक्ष रखना जरूरी है।

महंगाई पर बात करने वाला कोई नहीं

राजस्थान के मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत ने कहा कि किसी ने कभी कल्पना नहीं की थी कि देश में ऐसा वक्त भी आएगा कि तिरंगों के लिए लोगों को समाप्त होते देखा जाएगा। कोई कल्पना नहीं कर सकता जिस रूप में संविधान की धज्जियां उड़ रही हैं। महंगाई, बेरोज़गारी, जीएसटी पर कोई सुनवाई करने वाला नहीं है। उन्होंने कहा कि संसद चल रही है और मल्लिकार्जुन खड़गे को जांच के लिए बुलाया जाता है।

हिरासत में लिए गए कार्यकर्ता

देश अपना 75वां स्वतंत्रता दिवस मना रहा है। ऐसे में इंटेलिजेंस ब्यूरो (आईबी) ने दिल्ली पुलिस को आतंकी अलर्ट जारी करते हुए सतर्क रहने की हिदायत दी थी। आईबी ने दिल्ली पुलिस को जैश-ए-मोहम्मद, लश्कर-ए-तैयबा और रेडिकल ग्रुप से खतरे की आशंका जताई है। जिसके तत्काल बाद राष्ट्रीय राजधानी की सुरक्षा को और भी ज्यादा मजबूत कर दिया गया और दिल्ली को किले में तब्दील कर दिया गया।

इसे भी पढ़ें: हेराल्ड मामला: ईडी ने कांग्रेस नेता खड़गे से सात घंटे से अधिक समय तक पूछताछ की 

इसी बीच कांग्रेस का देशभर में महंगाई, बेरोजगारी, ईडी की कार्रवाई के खिलाफ विरोध प्रदर्शन चल रहा है। ऐसे में सुरक्षा व्यवस्था को ध्यान में रखते हुए पुलिस ने विरोध प्रदर्शन कर रहे कांग्रेस कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया है। इसके अतिरिक्त कांग्रेस मुख्यालय के बाहर भारी संख्या में पुलिसबल तैनात है।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़