पूछताछ के दौरान जांच अधिकारियों को डराने के लिए कांग्रेस के पास होता है SoP, राजीव चंद्रशेखर ने विपक्षी पार्टी पर साधा निशाना

Rajeev Chandrasekhar
ANI Image
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मुझे ईडी को डराने की कांग्रेस की एक और कोशिश की आशंका है। जब भी पूछताछ की जाती है तो कानून प्रवर्तन अधिकारियों को डराने के लिए उनके पास एक एसओपी होता है। इस रणनीति में ममता बनर्जी ने भी निवेश किया है।

नयी दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने धनशोधन मामले की जांच को लेकर नेशनल हेराल्ड के मुख्यालय समेत 11 अन्य स्थानों पर छापेमारी की। इससे पहले जांच एजेंसी नेशनल हेराल्ड केस को लेकर कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्षा सोनिया गांधी और वायनाड सांसद राहुल गांधी से पहले ही पूछताछ कर चुकी है। कांग्रेस के शीर्ष नेताओं से पूछताछ के दौरान पार्टी कार्यकर्ताओं और नेताओं ने देशभर में प्रदर्शन किए।

इसे भी पढ़ें: ED के निदेशक का कार्यकाल बढ़ाने के खिलाफ याचिका दायर, SC ने केंद्र से मांगा जवाब 

इसी बीच केंद्रीय मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने नेशनल हेराल्ड के दफ्तर पर हो रही छापेमारी को लेकर विपक्षी पार्टी पर तंज कसा। उन्होंने कहा कि पूछताछ के दौरान जांच अधिकारियों को डराने के लिए उनके पास एक एसओपी होता है। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मुझे ईडी को डराने की कांग्रेस की एक और कोशिश की आशंका है। जब भी पूछताछ की जाती है तो कानून प्रवर्तन अधिकारियों को डराने के लिए उनके पास एक एसओपी होता है। इस रणनीति में ममता बनर्जी ने भी निवेश किया है।

इसे भी पढ़ें: पार्थ और अर्पिता दे रहे एक जैसा जवाब, कैश क्वीन बोलीं- पैसा मेरा नहीं, मेरी गैरमौजूदगी में रखा गया 

कांग्रेस कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन

ईडी की छापेमारी के खिलाफ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने नेशनल हेराल्ड के दफ्तर के बाहर एकत्रित होकर जांच एजेंसी के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया। इस दौरान ईडी के खिलाफ नारेबाजी भी की। जांच अधिकारियों ने बताया कि आपराधिक धाराओं के तहत छापे मारे जा रहे हैं, ताकि यह पता लगाने के लिए अतिरिक्त सबूत एकत्र किए जा सकें कि धन का लेन-देन किसके बीच हुआ।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़