झारखंड में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में तीन नक्सली मारे गए

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 26, 2022   21:29
झारखंड में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में तीन नक्सली मारे गए

झारखंड के लातेहार जिले के जंगल में शनिवार सुबह सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में तीन नक्सली मारे गए। पुलिस ने बताया कि ये नक्सली भाकपा (माओवादी) से अलग हुए धड़े तृतीय प्रस्तुति कमिटी (टीपीसी) से जुड़े हुए थे। पुलिस महानिरीक्षक (ऑपरेशंस) अमोल वी. होमकर ने बताया, ‘‘मृतक नक्सलियों की पहचान विभिन्न स्रोतों के जरिए की जा रही है।

रांची। झारखंड के लातेहार जिले के जंगल में शनिवार सुबह सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में तीन नक्सली मारे गए। पुलिस ने बताया कि ये नक्सली भाकपा (माओवादी) से अलग हुए धड़े तृतीय प्रस्तुति कमिटी (टीपीसी) से जुड़े हुए थे। पुलिस महानिरीक्षक (ऑपरेशंस) अमोल वी. होमकर ने बताया, ‘‘मृतक नक्सलियों की पहचान विभिन्न स्रोतों के जरिए की जा रही है। प्रारंभिक सूचना के अनुसार, यह पता चला है कि तीन मृतकों में से एक ‘उप-मंडलीय कमांडर’ था और एक अन्य व्यक्ति प्रतिबंधित संगठन का ‘क्षेत्र कमांडर’ था।’’ पुलिस ने दावा किया कि कावाखार वन में मुठभेड़ में तीन और नक्सली मारे गए हैं क्योंकि जंगल के अलग-अलग स्थानों पर खून के धब्बे देखे गए हैं। पुलिस को खुफिया सूचना मिली थी कि टीपीसी का सशस्त्र दल जिले के हेसलवार और मारवार जंगलों में मुलाकात करेगा।

इसे भी पढ़ें: सरकार जब तक पाकिस्तान से बातचीत नहीं करेगी, तब तक कश्मीर में शांति नहीं आएगी: महबूबा

दल का नेतृत्व उसके नेता राजेश गंझू, राजेश ओरान, नथूनी और जितेंद्र यादव करेंगे। झारखंड पुलिस और झारखंड जगुआर के एक संयुक्त दल को शनिवार सुबह इलाके में तलाश अभियान के लिए भेजा गया। होमकर ने कहा, ‘‘कावाखर जंगल में नक्सलियों ने पुलिस दल पर गोलियां चलायी और उसने भी आत्म-रक्षा में जवाबी कार्रवाई की।’’ अधिकारी ने कहा कि मुठभेड़ के बाद इलाके में तलाश अभियान के दौरान तीन शव बरामद किए गए। पुलिस ने घटनास्थल से एक सेल्फ-लोडिंग राइफल, कारतूस और गोला बारुद भंडारण यंत्र बरामद होने का दावा भी किया है।

इसे भी पढ़ें: BCCI ने आईपीएल के शुरुआत में टोक्यो ओलंपिक पदक विजेताओं को सम्मानित किया

इस बीच, भाकपा (माओवादी) के क्षेत्र कमांडर विमल लोहरा उर्फ बिमल पहान ने शनिवार को खूंटी जिले में सुरक्षाबलों के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया। पहान 12 अलग-अलगमामलों में वांछित था। झारखंड पुलिस और केंद्रीय सशस्त्र बल मिलकर लोहरदगा, लातेहार और गुमला जिलों में आठ फरवरी के बाद से माओवादियों के खिलाफ अभियान चला रहे हैं। अभी तक नौ माओवादियों को गिरफ्तार किया गया, चार उग्रवादी मारे गए और पांच नक्सलियों ने आत्मसमर्पण कर दिया है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।