कोरोना संक्रमण के मामले दोगुने होने का समय 15.4 दिन हुआ: स्वास्थ्य मंत्रालय

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 30, 2020   20:11
कोरोना संक्रमण के मामले दोगुने होने का समय 15.4 दिन हुआ: स्वास्थ्य मंत्रालय

मंत्रालय ने कहा कि देश में 462 सरकारी प्रयोगशालाओं और 200 निजी प्रयोगशालाओं के जरिये जांच क्षमता बढ़ी है। उसने कहा कि अब तक 36,12,242 लोगों की जांच की गई हैजहां 1,26,842 नमूनों की जांच कल की गई। देश में अब 942 समर्पित कोविड अस्पताल हैं जिनमें 1,58,908 पृथक बिस्तर और 20,608 आईसीयू बिस्तर हैं।

नयी दिल्ली। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार को कहा कि देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले दोगुने होने के समय में सुधार हुआ है जो अब 13.3 दिन से बढ़कर 15.4 दिन हो गया है। मंत्रालय के अनुसार देश में कोविड-19 से मृतकों की संख्या 4,971 हो गई और संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 1,73,763 पहुंच गई है। मंत्रालय ने कहा कि शनिवार की सुबह आठ बजे से पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 11,264 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं और यह इस महामारी से एक दिन में स्वस्थ होने वाले मरीजों की सबसे अधिक संख्या है जिससे भारत में मरीजों की स्वस्थ होने की दर 47.40 प्रतिशत हो गई है। मंत्रालय के अनुसार देश में हालांकि एक दिन में सर्वाधिक 265 लोगों की मौत हुई और शनिवार की सुबह आठ बजे तक 7,964 मामले सामने आये है।

भारत दुनिया में इस महामारी से अब सबसे बुरी तरह से प्रभावित नौंवा देश है। देश में 86,422 मरीजों का इलाज चल रहा है और अब तक कोरोना वायरस के कुल 82,369 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। मंत्रालय ने कहा, ‘‘पिछले 24 घंटे के दौरान कोविड-19 के कुल 11,264 मरीज स्वस्थ हुए है। यह एक दिन में मरीजों के स्वस्थ होने की सर्वाधिक संख्या है।’’ मंत्रालय ने कहा, ‘‘इससे मरीजों के स्वस्थ होने की दर 4.51 प्रतिशत बढ़कर 47.40 प्रतिशत हो गई है। पिछले दिन यह दर 42.89 प्रतिशत थी।’’ बयान में कहा गया है, ‘‘30 मई तक, पिछले 14 दिन में दोगुने होने का समय 13.3 दिन था और पिछले तीन दिन में इसमें सुधार होकर यह 15.4 दिन हो गया है। मृत्यु दर 2.86 प्रतिशत है।’’ उसने कहा कि 29 मई तक कोविड-19 के 2.55 प्रतिशत मरीज आईसीयू में और 0.48 प्रतिशत वेंटिलेटर पर है। 

इसे भी पढ़ें: लॉकडाउन की अवधि तय होनी चाहिये: आनंद महिंद्रा

मंत्रालय ने कहा कि देश में 462 सरकारी प्रयोगशालाओं और 200 निजी प्रयोगशालाओं के जरिये जांच क्षमता बढ़ी है। उसने कहा कि अब तक 36,12,242 लोगों की जांच की गई हैजहां 1,26,842 नमूनों की जांच कल की गई। देश में अब 942 समर्पित कोविड अस्पताल हैं जिनमें 1,58,908 पृथक बिस्तर और 20,608 आईसीयू बिस्तर हैं। इसके अलावा देश में 10,541 पृथक केन्द्र और 7,304 कोविड देखभाल केन्द्र हैं जिनमें इस समय कोविड-19 से निपटने के लिए 6,64,330 बिस्तर उपलब्ध हैं। केन्द्र ने राज्यों, केन्द्र शासित प्रदेशों और केन्द्रीय संस्थानों को 119.88 लाख एन95 मास्क और 96.14 लाख व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) उपलब्ध कराये हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।