स्वाति मालीवाल के आरोपों की निष्पक्ष जाँच करवा कर सच को जनता के सामने लाया जाना चाहिए

Swati Maliwal
ANI
शाजिया इल्मी ने कहा है कि स्वाति मालीवाल ने जो किया वह फर्जी स्टिंग था। उन्होंने कहा है कि सुनियोजित षड्यंत्र रचा गया था लेकिन अब उसका खुलासा हो चुका है। शाजिया ने कहा है कि स्वाति मालीवाल से कथित रूप से छेड़छाड़ करने वाला व्यक्ति आम आदमी पार्टी का कार्यकर्ता है।

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल पर फर्जी स्टिंग कर दिल्ली पुलिस को बदनाम करने का जो आरोप लगाया जा रहा है उसकी निष्पक्ष जाँच कराये जाने की जरूरत है। हालांकि इसमें कोई दो राय नहीं कि राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में महिला विरोधी अपराधों की संख्या कम नहीं हुई है। यह भी सही है कि दिल्ली में आज भी महिलाएं रात को अकेले बाहर निकलने में असुरक्षित महसूस करती हैं। लेकिन स्वाति मालीवाल मामले में सामने आया वीडियो कुछ गंभीर सवाल भी खड़े कर रहा है जिसके जवाब जनता के सामने आने चाहिए।

इसे भी पढ़ें: DCW chief molestation Case | स्वाति मालीवाल का स्टिंग दिल्ली को बदनाम करने की साजिश? भाजपा का दावा- आरोपी ‘आप’ सदस्य

भाजपा की राष्ट्रीय प्रवक्ता शाजिया इल्मी ने कहा है कि स्वाति मालीवाल ने जो किया वह फर्जी स्टिंग था। उन्होंने कहा है कि एक सुनियोजित षड्यंत्र रचा गया था लेकिन अब उसका खुलासा हो चुका है। शाजिया ने कहा है कि स्वाति मालीवाल से कथित रूप से छेड़छाड़ करने वाला व्यक्ति आम आदमी पार्टी का कार्यकर्ता है। उन्होंने पूछा है कि यह यह रिश्ता क्या कहलाता है। भाजपा नेता शाजिया इल्मी ने सवाल किया, “आम आदमी पार्टी ने दिल्ली पुलिस को बदनाम करने के लिए ‘नाटक’ किया और उसकी विश्वसनीयता पर गंभीर सवाल खड़े हुए। क्या महिला सुरक्षा के गंभीर मुद्दे पर सस्ती राजनीति जायज है?” 

वहीं भाजपा सांसद मनोज तिवारी ने भी आम आदमी पार्टी पर हमला बोलते हुए पूछा है कि दिल्ली को बदनाम करने के लिए यह साजिश क्यों रची गयी। इसके अलावा केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी ने भी दिल्ली महिला आयोग की प्रमुख स्वाति मालीवाल से छेड़छाड़ के आरोपों को लेकर दावा किया है कि ये आरोप राष्ट्रीय राजधानी को बदनाम करने के लिए दिल्ली में सत्तारुढ़ आम आदमी पार्टी द्वारा रची गई साजिश का हिस्सा हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधते हुए सवाल किया कि वह ‘‘दिल्ली को बदनाम और बर्बाद करने के लिए किस हद तक जाएंगे।’’ 

हम आपको बता दें कि भाजपा नेताओं का आरोप है कि ‘आप’ सरकार द्वारा नियुक्त स्वाति मालीवाल ने केंद्र के अधीन आने वाली दिल्ली पुलिस को निशाना बनाने के लिए जानबूझकर इस घटना की पृष्ठभूमि तैयार की। दिल्ली भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष विरेंद्र सचदेव ने भी कहा है कि हरीश चंद्र जो मालीवाल से कथित छेड़छाड़ का आरोपी है वास्तव में संगम विहार इलाके में आप का प्रमुख कार्यकर्ता है। उन्होंने एक तस्वीर भी जारी की जिसमें आरोपी आप विधायक प्रकाश जरवाल के लिए प्रचार करता दिख रहा है।

इसे भी पढ़ें: नशे में धुत्त व्यक्ति ने Swati Maliwal के साथ की छेड़छाड़ की कोशिश, कार ने 10-15 मीटर तक घसीटा

गौरतलब है कि स्वाति मालीवाल ने गुरुवार को आरोप लगाया था कि अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के बाहर नशे में धुत एक कार सवार ने उनके साथ छेड़छाड़ की और फिर उन्हें अपनी गाड़ी से 10-15 मीटर तक घसीटा। स्वाति मालीवाल का दावा है कि गाड़ी की खिड़की में उनका हाथ फंस गया था, तभी वाहन चालक ने कार आगे बढ़ा दी। इस मामले में 47 वर्षीय आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

अन्य न्यूज़