कर्नाटक में ग्राम पंचायत चुनाव के दूसरे चरण के लिए वोटिंग जारी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 27, 2020   10:00
कर्नाटक में ग्राम पंचायत चुनाव के दूसरे चरण के लिए वोटिंग जारी

अधिकारियों के अनुसार, 39,378 सीटों के लिए 1,05,431 उम्मीदवार मैदान में हैं। उन्होंने कहा कि कुल 3,697 उम्मीदवार पहले ही निर्विरोध चुने जा चुके हैं। राज्य निर्वाचन आयोग के अधिकारियों ने कहा कि 20,728 बूथों पर मतदान सुबह सात बजे शुरू हुआ।

बेंगलुरु। कर्नाटक में ग्राम पंचायत चुनाव के दूसरे चरण में रविवार को 109 तालुकाओं की 2,709 पंचायतों के लिए मतदान जारी है। राज्य निर्वाचन आयोग के अधिकारियों ने कहा कि 20,728 बूथों पर मतदान सुबह सात बजे शुरू हुआ और शाम पांच बजे तक जारी रहेगा। अधिकांश स्थानों पर मतदान ने अभी तक गति नहीं पकड़ी है लेकिन मतदान अधिकारियों ने विश्वास व्यक्त किया कि यह दोपहर तक गति प्राप्त कर लेगा और दिन के अंत तक अच्छा मतदान होगा। अधिकारियों के अनुसार, 39,378 सीटों के लिए 1,05,431 उम्मीदवार मैदान में हैं। उन्होंने कहा कि कुल 3,697 उम्मीदवार पहले ही निर्विरोध चुने जा चुके हैं। 

इसे भी पढ़ें: भाजपा में JDS के विलय के कयासों को देवेगौड़ा ने किया खारिज, बोले- अपने दम पर सत्ता में आने का करेंगे प्रयास

कोविड​​-19 महामारी के बीच चुनाव हो रहा है, और ऐसे में जो कोरोना वायरस से संक्रमित हैं या संक्रमितों के प्राथमिक/द्वितीय संपर्क में आए हैं, वे मतदान के अंतिम घंटे में अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकते हैं। महामारी को देखते हुए मास्क पहनने और सामाजिक दूरी के नियम को अनिवार्य किया गया है। सभी मतदान केंद्रों पर हैंड सैनिटाइजर रखे गए हैं। प्रत्येक बूथ पर मतदाताओं की संख्या 1,500 से घटाकर 1,000 तक सीमित कर दी गई है। चुनाव के सुरक्षित संचालन के लिए लगभग 80,000 पुलिस और सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है। उनके अलावा, आंगनवाड़ी, आशा कार्यकर्ता और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को भी चुनाव ड्यूटी में लगाया गया है। राज्य में 22 दिसंबर को पहले चरण में 117 तालुकाओं में 3,019 पंचायतों के लिए मतदान हुआ था। मतगणना 30 दिसंबर को होगी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।