कौन हैं विदिशा मैत्रा? जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय मंच से पाक पीएम को दिया करारा पंच

कौन हैं विदिशा मैत्रा? जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय मंच से पाक पीएम को दिया करारा पंच

विदिशा मैत्रा साल 2009 बैच की भारतीय विदेश सेवा की अधिकारी हैं। विदिशा ने साल 2008 में सिविल सविल सर्विसेज की परीक्षा पास की थी।

संयुक्त राष्ट्र में इमरान खाने के झूठ को भारत ने कुछ ही घंटों में ध्वस्त कर दिया। भारत ने इमरान के प्रोपोगेंडा को बेनकाब करने की जिम्मेदारी संयुक्त राष्ट्र में अपनी सबसे युवा आफिसर विदिशा मैत्रा को दिया। संयुक्त राष्ट्र में इमरान के करीब 50 मिनट तक कश्‍मीर और इस्‍लामिक कट्टरता पर फैलाए गए झूठ को विदिशा ने सिर्फ 5 मिनट में बेनकाब कर दिया और पाक के कप्तान को आइना भी दिखाया। विदिशा मैत्रा यूएन में भारत की प्रथम सचिव हैं। यूएन में वो भारत की सबसे नई अधिकारी हैं।

इसे भी पढ़ें: UN में भारत की सबसे जूनियर अफसर ने खोली इमरान की पोल, पाक को बताया आतंकियों को पेंशन देने वाला देश

कौन हैं विदिशा मैत्रा

विदिशा मैत्रा साल 2009 बैच की भारतीय विदेश सेवा की अधिकारी हैं। विदिशा ने साल 2008 में सिविल सविल सर्विसेज की परीक्षा पास की थी। विदिशा ने सिविल सर्विसेज परीक्षा में पूरे देश में 39वां रैंक हासिल किया था। जबकि 2009 में ट्रेनिंग के दौरान उन्हें बेस्ट ट्रेनिंग ऑफिसर के लिए गोल्ड मेडल भी मिला था। विदिशा मैत्रा फिलहाल यूएन में भारत की प्रथम सचिव हैं और वहां पर भारत की सबसे नई अधिकारी भी हैं। 

इसे भी पढ़ें: UNGA में इमरान खान ने कहा- भारत को कश्मीर में ‘अमानवीय कर्फ्यू’ हटाना चाहिए

मिली है ये जिम्मेदारी

विदिशा मैत्रा संयुक्त राष्ट्र में सुरक्षा परिषद सुधार, सुरक्षा परिषद (पड़ोस/क्षेत्रीय) से जुड़े मुद्दे देखती हैं। साथ में उनको शंघाई कोऑपरेशन ऑर्गनाइजेशन (एससीओ) को भी देखने की जिम्मेदारी संभाल रही है। इसके अलावा गुट निरपेक्ष देशों के साथ समन्वय और संयुक्त राष्ट्र के जरिे दुनिया भार के चर्चित विश्वविद्यालयों, कॉलेजों और शिक्षण संस्थान से संपर्क करने की जिम्मेदारी भी विदिशा मैत्रा के पास है।

इसे भी पढ़ें: पाकिस्तान के PM दुनिया में हर दरवाजा खटखटाकर अपना मजाक उड़वा रहे हैं: राजनाथ सिंह

इमरान से विदिशा ने पूछे 5 सवाल

  • क्या पाकिस्तान मानता है कि उसके यहां संयुक्त राष्ट्र नामित 130 आतंकवादी और 25 आतंकी संगठन आज भी हैं?
  • क्या पाकिस्तान मानता है कि वो इकलौता देश है जो संयुक्त राष्ट्र की लिस्ट में शामिल आतंकी को पेंशन देता है?
  • क्या पाकिस्तान बातएगा कि उसके प्रमुख बैंक हबीब बैंक को न्यूसार्क में आतंकियों कि फंडिग की वजह से दुकान बंद करनी पड़ी?
  • क्या पाकिस्तान इस बात को स्वीकार करता है एफएटीएफ ने उसे 27 में से 20 मानकों के उल्लंघन की वजह से नोटिस दिया?
  • क्या इमरान खान न्यूयार्क शहर के सामने इस बात से इनकार कर सकते हैं कि वो ओसामा बिन लादेन के हिमायती रहे हैं?
 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।