योगी आदित्यनाथ की रूस यात्रा निवेश के लिहाज से मील का पत्थर साबित होगी

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Aug 11 2019 11:54AM
योगी आदित्यनाथ की रूस यात्रा निवेश के लिहाज से मील का पत्थर साबित होगी
Image Source: Google

भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता शलभ मणि त्रिपाठी ने कहा कि उत्तर प्रदेश को एक बेहतर व्यापारिक राज्य बनाने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री की रूस यात्रा में 50 उद्यामियों का एक प्रतिनिधिमंडल भी उनके साथ जा रहा है।

लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी ने कहा है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की रूस यात्रा निवेश के लिहाज से मील का पत्थर साबित होगी। योगी दोनो देशों के बीच परस्पर निवेश की संभावनाओं की तलाश में 50 उद्यमियों के प्रतिनिधिमंडल के साथ रविवार को चार दिन की रूस यात्रा पर रवाना हो रहे हैं। भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता शलभ मणि त्रिपाठी ने कहा कि उत्तर प्रदेश को एक बेहतर व्यापारिक राज्य बनाने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री की रूस यात्रा में 50 उद्यामियों का एक प्रतिनिधिमंडल भी उनके साथ जा रहा है। उन्होंने कहा कि यह प्रतिनिधिमंडल रूस में निवेश की संभावनाएं तलाशने के साथ ही वहां के निवेशकों को उत्तर प्रदेश में निवेश करने के लिए प्रेरित करेगा। 

इसे भी पढ़ें: कश्मीरी महिलाओं को लेकर बयान पर घिरे खट्टर, बोले- तोड़ मरोड़कर पेश की गई टिप्पणी

उल्लेखनीय है कि योगी के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल 11 से 14 अगस्त तक रूस यात्रा पर रहेगा। इसमें शामिल व्यापारी और निवेशक रूस के सरकारी अधिकारियों के साथ विचार विमर्श कर दोनों देशों के बीच परस्पर निवेश की संभावनाएं तलाशेंगे। त्रिपाठी ने कहा कि तेजी से बदली उत्तर प्रदेश की छवि के चलते आज तमाम उद्योगपति राज्य में निवेश के इच्छुक हैं और इस बार ग्राउंड ब्रेकिंग-2 सेरेमनी में 65 हजार करोड़ रूपये की तकरीबन 300 नई परियोजनाओं का शिलान्यास किया गया। उन्होंने बताया कि पिछले वर्ष की ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी में 60 हजार करोड़ रूपए की परियोजनाओं का शुभारम्भ हुआ था। यह अपने आप में एक बड़ी उपलब्धि कही जा सकती है। उन्होंने बताया कि निवेशकों को नियम-कानून के दांवपेंच में ना उलझना पड़े और उनके साथ सौहार्दपूर्ण व्यवहार हो, इसके लिए इज आफ डूईंग बिजनेस की कार्यपद्धति लागू की गई है।



रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video