एक्स1 रेसिंग लीग में इतिहास का गवाह बनेगा भारतीय मोटरस्पोटर्स, जुटेंगे देश और दुनिया के रेसर

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 28, 2019   12:30
एक्स1 रेसिंग लीग में इतिहास का गवाह बनेगा भारतीय मोटरस्पोटर्स, जुटेंगे देश और दुनिया के रेसर

दिल्ली टीम के लिए हिस्सा ले रहे गौरव गिल ने कहा कि यह लीग यूनीक है क्योंकि इसमें हिस्सा ले रहे रेसर्स अलग-अलग बैकग्राउंड से आए हैं। गौरव ने कहा-एक्स1 रेसिंग कई लिहाज से यूनीक है। इसमें हिस्सा ले रहे चालक अलग-अलग तरह के मोटरस्पोटर्स से आए हैं।

नई दिल्ली। दिल्ली-एनसीआर के बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट पर शनिवार को नया इतिहास लिखा जाएगा क्योंकि इस दिन दुनिया की पहली फ्रेंजाइजी बेस्ड मोटरस्पोटर्स लीग का आगाज होगा और भारतीय मोटरस्पोटर्स जगत इस महान पल का साक्षी बनेगा। अरमान इब्राहिम और आदित्य पटेल जैसे नामी रेसरों द्वारा शुरू की गई दुनिया की पहली फ्रेंजाइजी बेस्ड मोटरस्पोटर्स प्रतियोगिता में छह टीमें खिताब के लिए प्रतिस्पर्धा करेंगी। इस लीग के पहले संस्करण में 30 घरेलू और इंटरनेशनल रेसर्स हिस्सा लेंगे।

इसे भी पढ़ें: भारत में लीग से पहले NBA और फैनकोड ने की लाइवस्ट्रीमिंग पार्टनरशिप की घोषणा

एक्स1 रेसिंग लीग दो चरणों में आयोजित होगी। पहला चरण 30 नवम्बर से 1 दिसम्बर तक बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट पर होगा जबकि दूसरा चरण 7-8 दिसम्बर को चेन्नई के मद्रास मोटर रेस ट्रैक पर होगा। अरमान इब्राहिम ने कहा- एक्स1 रेसिंग मोटरस्पोटर्स को करीब से महसूस करने के लिए भारतीयों के लिए एक शानदार प्लेटफार्म होगा। हम चाहते हैं कि भारत के युवा चालकों को एक्स1 रेसिंग के माध्यम से मोटरस्पोटर्स में प्रवेश मिले। इस लीग को आयोजित करने का मुख्य लक्ष्य युवा भारतीयों को मोटरस्पोटर्स को करियर के रूप में अपनाने के लिए प्रेरित करना है।

इसे भी पढ़ें: धोनी के दिल के काफी करीब हैं यह दो घटनाएं जिन्हें वह कभी नहीं भूल पाएं!

मथायस लाउदा एडी रेसिंग दिल्ली टीम में शामिल हैं। मथायस ने एक्स1 रेसिंग का भारत पर पड़ने वाले असर के बारे में बताया। मथायस ने कहा-मुझे लगता है कि मोटरस्पोटर्स के लिए फ्रेंजाइजी बेस्ड फारमेट काफी उपयुक्त है। यह सभी खेलों में काफी सफल है। आशा है कि एक्स1 रेसिंग लीग वक्त के साथ बलवान होता जाएगा। यह एक नया फारमेट है, जहां इंटरनेशनल और डोमेस्टिक चालक एक साथ हिस्सा लेंगे और इस प्रतियोगिता को रोचक बनाएंगे।

इसे भी पढ़ें: श्रीलंका के राष्ट्रपति ने स्पिनर मुथैया मुरलीधरन को भेजा इस पद का न्यौता

दिल्ली टीम के लिए हिस्सा ले रहे गौरव गिल ने कहा कि यह लीग यूनीक है क्योंकि इसमें हिस्सा ले रहे रेसर्स अलग-अलग बैकग्राउंड से आए हैं। गौरव ने कहा-एक्स1 रेसिंग कई लिहाज से यूनीक है। इसमें हिस्सा ले रहे चालक अलग-अलग तरह के मोटरस्पोटर्स से आए हैं। इसमें फार्मूला रेसिंग ग्राउंड, जीटी बैकग्राउंड या फिर स्पोटर्स कार रेसिंग बैकग्राउंड से चालक आए हैं। यह देखना काफी रोचक होगा कि ये सभी चालक एक दूसरे के खिलाफ कैसा प्रदर्शन करते हैं।

इसे भी पढ़ें: रूस को बड़ा झटका, इतने सालों के लिए सभी खेलों से हुआ बाहर!

डीजी रेसेज के एलेक्स यूंग इस टीम बेस्ड मोटरस्पोटर्स टूर्नामेंट में हिस्सा लेने के लिए उत्सुक हैं। यूंग ने कहा-मोटरस्पोटर्स में हमें एक टीम के तौर पर शायद ही कभी प्रतिस्पर्धा का मौका मिलता है। एसे में मैं इस लीग का बेसब्री से इंतजार कर रहा हूं। मुझे लगता है कि एक्स1 रेसिंग लीग एक शानदार आइडिया है। हमने देखा है कि क्रिकेट के लिए किस तरह फ्रेंजाइसी बेस्ड टूर्नामेंट सफल रहे हैं। अब हमें देखना है कि यह भारत में मोटरस्पोटर्स के लिए कितना कारगर साबित होता है। एक्स1 रेसिंग लीग में छह टीमें हिस्सा लेंगी और इसे जेके टायर मोटरस्पोटर्स का साथ मिला है।

इसे भी पढ़ें: 5 टेस्ट खेलने वाले जॉर्ज बेली बने ऑस्ट्रेलिया टीम के चयनकर्ता

फ्रेंचाइजी आधारित एक्स1 रेसिंह लीग में छह टीमें हिस्सा लेंगी। हर टीम में दो कारें और चार चालक होंगे। हर टीम में एक इंटरनेशनल पुरुष चालक, एक इंटरनेश्नल महिला चालक, एक भारतीय इंटरनेशनल और एक डोमेस्टिक रेसर होगा। हर टीम के लिए एक घरेलू रेसर अनिवार्य रूप से रेस में हिस्सा लेगा। हर राउंड दिनों की होगी और हर दिन की शुरुआत प्रेक्सिस सेशन से होगी। इसके बाद क्वालीफाईंग सेशन होगा और फिर तीन बैक-टू-बैक रेस होंगी। हर राउंड में छह अलग-अलग रेस होंगी और हर रेस 30 मिनट तक चलेगी। हर रेस में हर दिन तीन यूनीक टाइम बेस्ड रेस फारमेट होंगे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।