Unlock 5 के 89वें दिन भारत में कोविड-19 से संक्रमण मुक्त हुए लोगों की संख्या 97,82,669 हुई

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 28, 2020   20:49
Unlock 5 के 89वें दिन भारत में कोविड-19 से संक्रमण मुक्त हुए लोगों की संख्या 97,82,669 हुई

मंत्रालय ने बताया कि पिछले 24 घंटों में संक्रमण का इलाज करा रहे मरीजों की संख्या 1,389 घटी है। देश में संक्रमण का उपचार करा रहे संक्रमितों की संख्या 2,77,301 हो गई है। कुल मामलों में इलाज करा रहे मरीजों की हिस्सेदारी घटकर 2.72 प्रतिशत रह गई है।

भारत में कोरोना वायरस के संक्रमण से मुक्त होने वाले मरीजों की संख्या सोमवार को 97,82,669 पहुंच गई। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि एक महीने से अधिक समय से रोजाना नये मामलों की तुलना में दैनिक संक्रमण मुक्त होने वाले मरीजों की संख्या अधिक रही है। इससे संक्रमण का इलाज करा रहे मरीजों का आंकड़ा कम हुआ है। मंत्रालय ने बताया कि पिछले 24 घंटों में संक्रमण का इलाज करा रहे मरीजों की संख्या 1,389 घटी है। देश में संक्रमण का उपचार करा रहे संक्रमितों की संख्या 2,77,301 हो गई है। कुल मामलों में इलाज करा रहे मरीजों की हिस्सेदारी घटकर 2.72 प्रतिशत रह गई है। उसने बताया, एक महीने से अधिक समय से रोजाना नये मामलों की तुलना में दैनिक संक्रमण मुक्त होने वाले मरीजों की संख्या अधिक रही है। पिछले 24 घंटों में देश में कोरोना वायरस से 20,021 लोग संक्रमित पाए गए हैं। इसी अवधि के दौरान 21,131 और मरीज संक्रमण मुक्त हुए हैं। इस प्रकार संक्रमण का उपचार करा रहे मामलों की संख्या में कमी दर्ज हुई है। मंत्रालय ने बताया कि वैश्विक रूप से अगर तुलना की जाए, तो प्रति 10 लाख की आबादी पर देश में कोविड-19 के मामलों की संख्या (7,397) है जो दुनिया में सबसे कम में से है। वैश्विक तौर पर औसतन 10 लाख की आबादी पर 10,149 लोग संक्रमित हैं। रूस, इंग्लैंड, इटली, ब्राजील, फ्रांस और अमेरिका जैसे देशों में प्रति 10 लाख की आबादी पर कोविड-19 के मामलों की संख्या बहुत अधिक है।

मंत्रालय ने बताया कि संक्रमण मुक्त हुए 72.99 प्रतिशत नये मरीज 10 राज्यों व केन्द्र शासित प्रदेशों से संबंधित हैं। 79.61 प्रतिशत नये मामले 10 राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों से हैं। केरल में एक दिन में सबसे ज्यादा 3463 मरीजों ने संक्रमण को मात दी है। इसके बाद महाराष्ट्र में 2124 और पश्चिम बंगाल में 1740 मरीज संक्रमण से मुक्त हुए हैं। केरल में 4,905 दैनिक नये मामले दर्ज हुए हैं। यह संख्या सबसे अधिक है। इसके बाद महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल में क्रमश: 3,314 और 1,435 नये मामले दर्ज हुए हैं। मंत्रालय के मुताबिक, पिछले 24 घंटों के दौरान 279 लोगों ने जान गंवाई है। दैनिक मौत के 80.29 प्रतिशत मामले 10 राज्यों व केन्द्र शासित प्रदेशों से सम्बन्धित हैं। महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटों के दौरान सबसे अधिक (66) मौतें दर्ज हुई हैं। इसके बाद पश्चिम बंगाल और केरल में कोविड-19 के कारण क्रमश: 29 और 25 मरीजों की मौत हुई है। मंत्रालय ने बताया कि देश में रोजाना होने वाली मरीजों की मौत में लगातार गिरावट हो रही है। भारत में प्रति 10 लाख की आबादी पर मृत्यु दर 107 है, जो दुनिया में सबसे कम में से है, जबकि वैश्विक औसत 224 है। भारत में कोरोना वायरस के मामले सोमवार को 1,02,07,871 हो गए, जबकि 1,47,901 लोगों की मौत हो चुकी है। 

इसे भी पढ़ें: कोविड-19 पर गृह मंत्रालय की नई गाइडलाइन्स, वायरस के नए प्रकार के प्रति सतर्क रहने की जरूरत 

बरेली सेंट्रल जेल में 21 कैदी कोरोना संक्रमित

बरेली में रविवार को कोविड-19 के 49 नये मामले सामने आए हैं जिनमें से 21 बरेली सेंट्रल जेल के कैदी हैं। सोमवार को अपर मुख्‍य चिकित्‍सा अधिकारी डॉक्‍टर अशोक कुमार ने बताया कि रविवार को जिले में कोविड-19 के 49 नये मामले सामने आए हैं, जिनमें से 21 बरेली केन्द्रीय कारागार के बंदी हैं। डीआईजी जेल आनंद पांडे ने बताया कि हर रविवार को रूटीन जांच कराई जा रही है और इस बार 21 बंदियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है। उन्‍होंने बताया कि संक्रमित के लिए जेल में ही अलग बैरक बनाई गई है और वहीं उनका उपचार किया जा रहा है। सोमवार को केन्द्रीय कारागार में युद्ध स्तर पर सेनेटाइजेशन किया जा रहा है। उन्‍होंने कहा कि पता लगाया जा रहा है कि जेल में कोरोना वायरस किस कैदी के साथ आया है। रविवार देर रात अपर मुख्य सचिव व जिले के नोडल अफसर प्रमुख सचिव नवनीत सहगल ने बरेली पहुंचने के फौरन बाद कलेक्ट्रेट स्थित एकीकृत कोविड कमांड सेंटर का जायजा लिया और कोविड-19 टीके की तैयारियों और टीके को रखने के इंतजाम की जानकारी ली। उन्‍होंने आवश्‍यक दिशा निर्देश भी दिये।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत दिल्ली एम्स में भर्ती

कोरोना वायरस से संक्रमित उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को सोमवार को फेफड़ों में हल्के संक्रमण के चलते परीक्षण के लिए दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती कराया गया है। नयी दिल्ली में सूत्रों ने बताया कि रावत को दोपहर करीब 12:30 बजे एम्स के ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया है जहां खास तौर से कोविड-19 मरीजों का उपचार किया जा रहा है। सुबह देहरादून में सरकारी अधिकारी ने बताया था कि मुख्यमंत्री को चिकित्सकों की सलाह पर हेलीकॉप्टर से एम्स, दिल्ली भेजा गया है। हल्का बुखार आने के बाद रावत रविवार देर शाम जांच के लिए यहां सरकारी दून अस्पताल गए थे जहां चिकित्सकों ने उन्हें भर्ती कर लिया था। उनके फेफड़ों में हल्का संक्रमण पाया गया जिसके बाद सुबह उन्हें दिल्ली एम्स ले जाया गया। मुख्यमंत्री के साथ उनके फीजिशियन डॉ एन. एस. बिष्ट भी दिल्ली गए हैं। मुख्यमंत्री कार्यालय के एक अधिकारी ने यहां बताया कि एम्स में मुख्यमंत्री रावत के कुछ जरूरी टेस्ट किए गए हैं। हालांकि, अधिकारी ने देर शाम बताया कि मुख्यमंत्री रावत का स्वास्थ्य ठीक है और रात में उनके बुखार में भी कमी आई है। उन्होंने कहा, ‘‘उनके फीजियशन डॉ बिष्ट ने बताया कि मुख्यमंत्री का स्वास्थ्य सामान्य है। उनके फेफड़ों में हल्का संक्रमण है।’’ इससे पहले, 18 दिसंबर को मुख्यमंत्री रावत के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी जिसके बाद उन्होंने खुद को गृहपृथक-वास में रखा था। रावत के साथ उनकी पत्नी और पुत्री भी कोविड-19 से ग्रस्त हुए थे।

कर्नाटक में कोरोना के 653 नए मामले

कर्नाटक में सोमवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 653 नए मामले सामने आए, जिसके साथ ही राज्य में अब तक संक्रमण के कुल 9,16,909 मामले सामने आ चुके हैं। स्वास्थ्य विभाग के ताजा बुलेटिन के मुताबिक, इसी अवधि में कोविड-19 के आठ मरीजों की मौत के बाद इस घातक वायरस के कारण जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 12,070 तक पहुंच गई। संक्रमण मुक्त होने के बाद सोमवार को 1,178 लोगों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। इसके साथ ही 8,92,273 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं। बुलेटिन के मुताबिक, ब्रिटेन से कर्नाटक आए 1,766 यात्रियों के नमूनों का परीक्षण किया गया है, जिनमें से 27 में संक्रमण की पुष्टि हुई है और 355 नतीजों का इंतजार है। राज्य में फिलहाल 12,547 मरीज उपचाराधीन हैं। 

इसे भी पढ़ें: इंदौर के भाजपा विधायक रमेश मैंदोला कोरोना वायरस से संक्रमित, निजी अस्पताल में कराया गया भर्ती 

राजस्थान में कोरोना से सात और लोगों की मौत

राजस्थान में सोमवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 798 नये मामले आये, इसके साथ ही राज्य में संक्रमितों की कुल संख्या 3,06,158 हो गई है। वहीं राज्य में संक्रमण से सात और लोगों की मौत होने के साथ ही महामारी से मरने वालों की संख्या 2677 पहुंच गयी है। अधिकारियों ने बताया कि सोमवार शाम छह बजे तक के बीते 24 घंटों में राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण से सात और लोगों की मौत हुई है। राज्य में अब तक जयपुर में 498,जोधपुर में 286, अजमेर में 219,बीकानेर में 165, कोटा में 165,भरतपुर में 119,उदयपुर में 110,पाली में 109औरसीकर में 95संक्रमितों की मौत हो चुकी हैं। उन्होंने बताया कि सोमवार को राज्य में 1206 लोग संक्रमण से ठीक हुए। राज्य में अब तक कुल 2,92,739 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं। सोमवार को संक्रमण के 798 नये मामले सामने आने से राज्य में इस घातक वायरस से संक्रमितों की अब तक की कुल संख्या 3,06,158हो गयी जिनमें से 10,742रोगी उपचाराधीन हैं। नये मामलों में जोधपुर में 100, जयपुर में 76, भीलवाडा में 61, कोटा में 57, अलवर में 52, पाली में 41, और नागौर में 40 नये संक्रमित शामिल हैं।

दिल्ली में पांच महीने में कोरोना के सबसे कम 564 नए मामले

दिल्ली में सोमवार को कोरोना वायरस के 564 नए मरीजों की पुष्टि हुई। यह संख्या पांच महीनों में सबसे कम है। वहीं, राष्ट्रीय राजधानी में संक्रमण से 21 और मरीजों की मौत हो गई, जिसके बाद मृतक संख्या बढ़कर 10,474 परपहुंच गई। अधिकारियों ने बताया कि राष्ट्रीय राजधानी में संक्रमण की दर 0.98 फीसदी है। नए मामले सामने आने के साथ ही शहर में कुल मामले बढ़कर 6,23,415 हो गए हैं। रविवार को 57,463 से ज्यादा नमूनों की जांच की गई थी। दिल्ली में रविवार को 757, शनिवार को 655, शुक्रवार को 758 और बृहस्पतिवार को 1063 मामले सामने आए थे। दिल्ली में 27 जुलाई को कोरोना वायरस के 613 मामले सामने आए थे। 16 अगस्त को 652 और 17 अगस्त को 787 मामले आए थे। स्वास्थ्य बुलेटिन के मुताबिक, दिल्ली में सोमवार को इलाज करा रहे मरीजों की संख्या 6297 हो गई जो रविवार को 6713 थी। दिल्ली में 11 नवंबर को एक दिन में सबसे ज्यादा 8593 मामले आए थे। बुलेटिन के मुताबिक, कोविड अस्पतालों के 18774 बिस्तरों में से 16275 बिस्तर खाली हैं। बुलेटिन में बताया गया है कि राष्ट्रीय राजधानी में 6,06,644 मरीज संक्रमण मुक्त हो चुके हैं। अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली में सोमवार को निषिद्ध क्षेत्रों की संख्या 4563 हो गई जो रविवार को 4931 थी। 

इसे भी पढ़ें: कोरोना का असर अब Play school पर दिखा, नहीं हो रहे बच्चों के एडमिशन 

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ने लोगों से मास्क पहनने की अपील की

ब्रिटेन में कोविड-19 के एक नए प्रकार का पता चलने के बाद डर के साये के बीच, तमिलनाडु सरकार ने सोमवार को फेस मास्क के इस्तेमाल पर जोर देते हुए कहा कि यह संक्रमण के खिलाफ एक प्रभावी निवारक बन गया है। मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने कहा कि ब्रिटेन से राज्य में लौटने पर कोरोनावायरस से संक्रमित पाए गए13 मरीजों के नमूनों को पुणे की एक प्रयोगशाला में विश्लेषण के लिए भेजा गया है और अगर वे वायरस के नए प्रकार से संक्रमित पाए जाते हैं तो उसी मुताबिक उपचार शुरू किया जा सकता है। उन्होंने महामारी की स्थिति पर जिला कलेक्टरों और अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक में कहा, ‘‘चिकित्सा विशेषज्ञों का कहना है कि नया कोरोनावायरस संक्रमण भी मास्क नहीं पहनने से फैलता है।” उन्होंने कहा कि वायरस को फैलने से रोकने का एकमात्र तरीका अब लोगों के लिए अनिवार्य रूप से फेस मास्क पहनना है। उन्होंने इस बात पर चिंता जताई कि कुछ लोगों ने महामारी को हल्के में लिया और फेस मास्क पहनने से परहेज किया।संक्रमण के मामले घटने के बीच मुख्यमंत्री ने जनता से कोविड दिशा-निर्देशों का कड़ाई से पालन करने का आग्रह किया। उन्होंने अधिकारियों से नए साल और पोंगल उत्सव के दौरान अतिरिक्त सतर्क रहने का आग्रह किया। पलानीस्वामी ने कहा कि अब तक उनकी सरकार संक्रमण को नियंत्रित करने, इलाज और राहत उपायों को लागू करने पर 7,544 करोड़ रुपये खर्च कर चुकी है। पलानीस्वामी ने आगे कहा कि रक्त के नमूने एकत्र करने, उचित उपचार देने और बीमारी को फैलने से रोकने के लिए मोबाइल इकाई लगाई जा रही है। उन्होंने कहा कि संक्रमण की दर वर्तमान में 5.84 प्रतिशत थी, जबकि मृत्यु दर 1.48 प्रतिशत थी।

जम्मू-कश्मीर में कोविड 19 के 156 नए मामले

जम्मू-कश्मीर में सोमवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 156 नए मरीज सामने आए और छह संक्रमितों की मौत हो गई। अधिकारियों ने बताया कि नए मामले सामने आने के बाद केंद्र शासित प्रदेश में कोविड-19 के कुल मामलों की संख्या 1,20,293 हो गई है, जबकि मृतकों की कुल संख्या 1875 हो गई है। उन्होंने बताया कि नए मामलों में 90 कश्मीर से और 66 जम्मू संभाग से सामने आए हैं। अधिकारियों ने बताया कि जम्मू जिले में सबसे ज्यादा 56 मरीजों की पुष्टि हुई है। इसके बाद श्रीनगर जिले में 34 मामले आए हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश में संक्रमण का इलाज करा रहे मरीजों की संख्या 3,157 रह गई है। प्रदेश में अबतक 1,15,261 मरीज संक्रमण से उबर चुके हैं। वहीं कश्मीर में पांच जबकि जम्मू में एक संक्रमित मरीजों की मौत हुई है।

महाराष्ट्र में कोविड-19 की वजह से 50 और मरीजों की मौत 

महाराष्ट्र में सोमवार को कोविड-19 के 2,498 नए मामले सामने आने से संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 19,22,048 हो गए। स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि राज्य में दिन के दौरान संक्रमण से 50 मौतें हुईं, जिससे राज्य में इस महामारी में मरने वालों की संख्या बढ़कर 49,305 हो गई। उपचार के बाद कुल 4,501 रोगियों को छुट्टी दे दी गई, जिसके बाद राज्य में ठीक हो चुके लोगों की संख्या बढ़कर 18,14,449 हो गई। राज्य में उपचाराधीन रोगियों की संख्या अब 57,159 है। 

इसे भी पढ़ें: उपराष्ट्रपति ने प्लास्टिक के जिम्मेदाराना उपयोग की अपील की, बोले- उपयोग करने से बचना समाधान नहीं है 

मुजफ्फरनगर में कोविड-19 के कारण एक और मरीज की मौत

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले में सोमवार को संक्रमण के 38 नए मामले आने के साथ ही जिले में संक्रमित हुए लोगों की संख्या बढ़कर 7,972 हो गई है। वहीं संक्रमण के कारण एक और मरीज की मौत होने के साथ ही मृतक संख्या बढ़कर 101 हो गई। जिले में फिलहाल 365 लोगों का कोविड-19 का इलाज चल रहा है। जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे. ने बताया कि 494 नमूनों की जांच की गई जिनमें से 38 की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी। उन्होंने बताया कि 41 लोगों को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दी गई है। जिले में अभी तक कुल 7,506 लोग संक्रमण मुक्त हुए हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।