टेस्ला को शंघाई संयंत्र के लिये चीन के बैंकों से मिला 52 करोड़ डॉलर का वित्तपोषण

tesla-financed-500-million-from-chinese-banks-for-shanghai-plant
यह कारखाना इस साल के अंत तक शुरू हो जाएगा और इसकी शुरुआती क्षमता प्रति सप्ताह तीन हजार कार बनाने की होगी। बाद में क्षमता को बढ़ाकर सालाना पांच लाख इकाइयों तक किया जाएगा।

शंघाई। इलेक्ट्रिक कार बनाने वाली कंपनी टेस्ला को शंघाई के नजदीक बन रहे संयंत्र के लिये चीन के बैंकों से 52 करोड़ डॉलर से अधिक का ऋण मिला है। अमेरिका की इस कंपनी का यह पहला विदेशी संयंत्र होगा। यह किसी भी विदेशी वाहन कंपनी का चीन में ऐसा पहला संयंत्र होगा जिसपर उसका 100 प्रतिशत मालिकाना हक होगा। इस वित्तपोषण की घोषण बृहस्पतिवार को की गयी।

कंपनी इस कारखाने में मॉडल-तीन सेडान तैयार करेगी। यह कारखाना इस साल के अंत तक शुरू हो जाएगा और इसकी शुरुआती क्षमता प्रति सप्ताह तीन हजार कार बनाने की होगी। बाद में क्षमता को बढ़ाकर सालाना पांच लाख इकाइयों तक किया जाएगा।

इसे भी पढ़ें: रिजर्व बैंक ने चार बैंकों पर लगाया 11 करोड़ रुपये का जुर्माना

टेस्ला के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एलन मस्क कारखाने की आधारशिला रखने जनवरी में चीन आये हुए थे। उन्होंने कहा था कि कारखाना तैयार करने और उत्पादन शुरू करने के लिये स्थानीय बैंकों से धन जुटाने की योजना है।

इसे भी पढ़ें: Zomato 1,220 करोड़ रुपये में बेचेगी अपना UAE खाद्य कारोबार

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़