माली में शिकारियों-पशुपालकों के संघर्ष में 37 लोगों की मौत : सरकार

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jan 2 2019 5:45PM
माली में शिकारियों-पशुपालकों के संघर्ष में 37 लोगों की मौत : सरकार
Image Source: Google

बयान के मुताबिक, 37 लोगों की मौत के अलावा कई अन्य लोग घायल भी हुए हैं और कई मकान भी जलाए गए हैं। हमले के प्रत्यक्षदर्शी एक सुरक्षा सूत्र और एक व्यक्ति ने भी इसके लिए डोगोन को ही जिम्मेदार बताया था। उसने मृतकों की संख्या 33 बतायी थी।

बमाको। मध्य माली में फुलानी पशुपालकों के एक गांव पर पारंपरिक डोगोन शिकारियों के हमले में मंगलवार को 37 लोग मारे गए। सरकार की ओर से जारी बयान के अनुसार, मोप्ती क्षेत्र में बंकास के निकट कुलोगोन गांव में पारंपरिक डोजो शिकारियों के कपड़े पहने हुए लोगों ने हमला किया। डोजो शिकारी जातीय समूह डोगोन से जुड़े हुए हैं।

इसे भी पढ़ें- पाकिस्तान के लिए ‘अति उन्नत’ युद्धपोत बना रहा चीन : रिपोर्ट

बयान के मुताबिक, 37 लोगों की मौत के अलावा कई अन्य लोग घायल भी हुए हैं और कई मकान भी जलाए गए हैं। हमले के प्रत्यक्षदर्शी एक सुरक्षा सूत्र और एक व्यक्ति ने भी इसके लिए डोगोन को ही जिम्मेदार बताया था। उसने मृतकों की संख्या 33 बतायी थी।

इसे भी पढ़ें- अवैध रूप से सीमा पार करने वालों पर अमेरिका ने दागे आंसू गैस के गोले

फुलानी समुदाय के अलाये यातारा ने बताया, ‘‘हमले में हमारे ग्राम प्रधान मूसा दिआलो, एक बुजुर्ग महिला और बच्ची सहित उनके पूरे परिवार की हत्या कर दी गई है।’’ फुलानी और डोगोन समुदायों के बीच चारागाह, जमीन और पानी को लेकर विवाद के कारण अकसर हिंसक संघर्ष होते हैं। संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक 2018 में इस क्षेत्र में 500 से ज्यादा लोगों की मौत हुई है।

 


रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप