25वीं वर्षगांठ पर हांगकांग पहुंचे चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग, समर्थकों ने लहराए चीनी झंडे

xi jinping
Google common license
चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ब्रिटिश नियंत्रण से चीनी शासन में लौटने की 25वीं वर्षगांठ पर हांगकांग पहुंचे।कोरोना वायरस महामारी के करीब ढाई साल पहले सामने आने के बाद चिनफिंग की मुख्य भूमि से बाहर यह पहली यात्रा है।उनकी यात्रा ऐसे समय हो रही है जब हांगकांग वायरस से संक्रमण के एक नए दौर का सामना कर रहा है।

हांगकांग। हांगकांग को चीनी शासन को सौंपने की 25वीं वर्षगांठ के मौके पर चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग बृहस्पतिवार को यहां पहुंचे। चीनी और हांगकांग के झंडे लहराते हुए उनके समर्थकों ने कहा, ‘‘स्वागत है, स्वागत है! गर्मजोशी से आपका स्वागत है।’’ कोरोना वायरस महामारी के करीब ढाई साल पहले सामने आने के बाद चिनफिंग की मुख्य भूमि से बाहर यह पहली यात्रा है। उनकी यात्रा ऐसे समय हो रही है जब हांगकांग वायरस से संक्रमण के एक नए दौर का सामना कर रहा है। ब्रिटेन ने हांगकांग एक जुलाई, 1997 को चीन को लौटा दिया था।

इसे भी पढ़ें: अफगानिस्तान में छूटे अमेरिका के खतरनाक हथियार कहां गए? इस देश में हो रही स्मगलिंग

ट्रेन से उतरते ही चिनफिंग और उनकी पत्नी पेंग लियुआन का शहर की नेता कैरी लैम ने स्वागत किया। चिनफिंग ने उन समर्थकों का हाथ हिलाकर अभिवादन किया, जिन्होंने मंच पर उनका स्वागत किया। चिनफिंग ने हांगकांग वेस्ट कॉव्लून ट्रेन स्टेशन पर एक भाषण में कहा, मैं हांगकांग में आकर बहुत खुश हूं। उन्होंने कहा, ‘‘मैं पिछले पांच वर्षों से हांगकांग के बारे में ध्यान दे रहा हूं। चिनफिंग ने कहा कि हांगकांग ने पिछले कई वर्षों में कई चुनौतियों का सामना किया है। चिनफिंग और पेंग बृहस्पतिवार की रात चीनी शहर शेनझेन में बिता सकते हैं। हांगकांग से शेनझेन जाने में ट्रेन के जरिये 15 मिनट का समय लगता है। वे कुछ कार्यक्रमों में हिस्सा लेने के लिए शुक्रवार की सुबह हांगकांग लौटेंगे।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़