भारत और पाकिस्तान को आगे सैन्य कार्रवाई से बचना चाहिए : पेंटागन

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 28, 2019   11:51
भारत और पाकिस्तान को आगे सैन्य कार्रवाई से बचना चाहिए : पेंटागन

कनाडा ने भी भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव कम करने का आह्वान किया है। कनाडा के विदेश मामले के मंत्री क्रिस्टिया फ्रीलैंड ने कहा, ‘‘भारत और पाकिस्तान के बीच बढ़ते तनाव पर कनाडा गंभीर रूप से चिंतित है।

वाशिंगटन। भारत और पाकिस्तान के बीच मौजूदा तनाव बढ़ने की आशंका के मद्देनजर पेंटागन ने बुधवार को दक्षिण एशिया के दोनों पड़ोसी देशों से आगे सैन्य कार्रवाई से बचने की अपील की। जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले में 14 फरवरी को आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवानों के शहीद होने के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ गया है। पाकिस्तान के आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) ने हमले की जिम्मेदारी ली है। भारत-पाकिस्तान तनाव के मद्देनजर कार्यवाहक रक्षा मंत्री पैट्रिक शनहान ने विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन बोल्टन, ज्वाइंट चीफ ऑफ स्टॉफ के चेयरमैन जोसेफ डनफोर्ड और अमेरिकी मध्य कमान के कमांडर जनरल जोसेफ वोटेल के साथ संपर्क में हैं। पेंटागन ने एक बयान में कहा, ‘‘कार्यवाहक मंत्री शनहान का लक्ष्य तनाव को कम करना और दोनों देशों से आगे सैन्य कार्रवाई से बचने का अनुरोध करना है।

इसे भी पढ़ें: मसूद अजहर पर प्रतिबंध का विरोध नहीं, आतंक में शामिल हर व्यक्ति आतंकवादी घोषित हो

कनाडा ने भी भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव कम करने का आह्वान किया है। कनाडा के विदेश मामले के मंत्री क्रिस्टिया फ्रीलैंड ने कहा, ‘‘भारत और पाकिस्तान के बीच बढ़ते तनाव पर कनाडा गंभीर रूप से चिंतित है। हम दोनों तरफ से अधिकतम संयम बरतने और आगे किसी सैन्य कार्रवाई से बचने का अनुरोध करते हैं।’’ उन्होंने भारत और पाकिस्तान के बीच वर्तमान समस्या का एक स्थायी राजनयिक समाधान निकालने की अपील की।

इसे भी पढ़ें: मसूद अजहर विवाद के बीच चीन के विदेश मंत्री से मिलेंगी सुषमा स्वराज

फ्रीलैंड ने कहा, ‘‘भारत और पाकिस्तान के बीच एक स्थायी राजनीतिक समाधान की पहचान करने और क्षेत्र में शांति एवं सुरक्षा बनाए रखने के लिए बाचतीत की जरूरत है।’’ कनाडा के विदेश मंत्री ने कहा कि कनाडा आतंकवाद के खिलाफ वैश्विक लड़ाई में अपना सहयोग देने के प्रति दृढ़ है। उन्होंने कहा, ‘‘हम इस प्रयास में भारत, पाकिस्तान और अपने अंतरराष्ट्रीय सहयोगियों के साथ काम करने को लेकर प्रतिबद्ध है।’’





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।